हैदराबाद: 1100 करोड़ रुपये के Online Gambling रैकेट का पर्दाफाश, चीनी नागरिक समेत 4 गिरफ्तार

कथित तौर पर चीन बेस्ड बीजिंग टी पावर कंपनी (Beijing T Power Company) के तहत अलग-अलग कंपनियों द्वारा ऑनलाइन गेम्बलिंग रैकेट (Online Gambling Racket) चल रहा था.

चीन की एक कंपनी द्वारा भारत में चलाए जा रहे गैर-कानूनी ऑनलाइन गेम्बलिंग रैकेट (Online Gambling Racket) का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने इस मामले में एक चीनी नागरिक (Chinese Citizen) समेत उसके तीन भारतीय साथियों को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस अधिकारियों के अनुसार, सभी बुधवार को दिल्ली से गिरफ्तार हुए थे, और फिर उन्हें गुरुवार को हैदराबाद (Hyderabad) लाया गया.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

आयकर विभाग की छापेमारी के दौरान हाथ लगी कामयाबी

यह कामयाबी उस दौरान हाथ लगी जब चीनी व्यक्तियों और कंपनियों पर दिल्ली, गुरुग्राम और नोएडा में आयकर विभाग द्वारा छापे मारे गए थे. कथित तौर पर चीन बेस्ड बीजिंग टी पावर कंपनी के तहत अलग-अलग कंपनियों द्वारा ऑनलाइन गेम्बलिंग रैकेट चल रहा था.

पुलिस ने दावा किया कि 1,100 करोड़ रुपये के लेन-देन का पता लगाया गया था. ज्यादातर लेन-देन लॉकडाउन अवधि के दौरान किए गए थे. हैदराबाद पुलिस ने साउथ-ईस्ट एशिया के ऑपरेशंस को हेड करने वाले ऑनलाइन फर्म के याह हाओ को गिरफ्तार किया. हाओ के साथ ही फर्म के भारतीय डायरेक्टर्स धीरज सरकार, अंकित कपूर और नीरज तुली को भी गिरफ्तार किया गया है.

यह गिरफ्तारी हैदराबाद के दो लोगों को ऑनलाइन जुआ खेलने के दौरान 1.64 लाख और 97,000 रुपये का नुकसान होने के बाद हुई है. चारों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखेबाजी) और 120 बी (षड़यंत्र रचने के लिए) और तेलंगाना गेम्बलिंग एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है. बताते चलें कि तेलंगाना और कई राज्यों में जुआ खेलने पर बैन है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts