Delhi Minor Rape: पहले भी जेल की सजा काट चुका है आरोपी, अच्छे व्यवहार के चलते हुआ था रिहा

आरोपी कथित रूप से चोरी का प्रयास कर रहा था. जब 12 साल की बच्ची इसका ने विरोध किया तो कृष्ण ने उस पर हमला किया और उसका यौन उत्पीड़न किया.
Delhi sexual assault on minor, Delhi Minor Rape: पहले भी जेल की सजा काट चुका है आरोपी, अच्छे व्यवहार के चलते हुआ था रिहा

दिल्ली पुलिस ने पश्चिम विहार इलाके में  12 साल की बच्ची के यौन उत्पीड़न के मामले में आरोपी कृष्ण को गिरफ्तार किया है. आरोपी दिल्ली के मंगोलपुरी का रहने वाला है. पीरागढ़ी इलाके में ही किसी फैक्ट्री में काम करता है. आरोपी पर पहले एक मर्डर, लूट और छीनाझपटी के कई मामले दर्ज हैं. आरोपी ने बच्ची से बदला लेने के लिए इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया है क्योंकि बच्ची ने उसे लूटपाट करते देख लिया था.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

आरोपी के खिलाफ कुल 4 केस रजिस्टर्ड

33 वर्षीय कृष्ण के खिलाफ POCSO के तहत मामला दर्ज किया है. आरोपी के खिलाफ कुल 4 केस रजिस्टर्ड हैं. कृष्ण कुमार को साल 2006 में दिल्ली के सुल्तानपुरी में एक महिला 29 वर्षीय के घर में घुसकर उसकी हत्या करने के आरोप आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी, लेकिन 2014 में “अच्छे व्यवहार” के चलते उसे रिहा कर दिया गया था.

अच्छे व्यवहार के चलते आजीवन कारावास से मिली रिहाई

पुलिस के मुताबिक आरोपी पहले एक प्लास्टिक फैक्ट्री में काम करता था, धीरे-धीरे उसे शराब की लत लग गई इसके बाद उसने चोरी करना शुरू कर दिया. साल 2006 में जब वो एक महिला के घर चोरी करने घुसा तो महिला ने सिक्योरिटी अलार्म बजाने कि कोशिश की, इस बीच आरोपी ने ईंट से उसपर हमला किया. इसके बाद महिला ने जब उसका विरोध किया तो वह और आक्रामक हो गया और महिला को मार डाला.

इस मामले में उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी. इस दौरान उसने तिहाड़ जेल में रसोई कर्मचारियों के साथ काम भी किया. साल 2014 में उसे अच्छे व्यवहार के चलते रिहा कर दिया गया. हालांकि बाहर आने पर उसके मां बाप ने उसे अपनाने से मना कर दिया. साल 2016 में उसे पश्चिम बिहार में चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया लेकिन 4 महीने बाद वो जमानत पर बाहर आ गया. कुछ महीनों बाद एक बार फिर चचेरे भाई की हत्या की कोशिश के मामले में उसे गिरफ्तार किया गया, इस बार भी किस्मत ने उसका साथ दिया.

बच्ची को मरा समझकर छोड़ गया आरोपी

वर्तमान मामले में, आरोपी कथित रूप से चोरी का प्रयास कर रहा था. जब 12 साल की बच्ची इसका ने विरोध किया तो कृष्ण ने उस पर हमला किया और उसका यौन उत्पीड़न किया. पुलिस ने बताया कि आरोपी ने लड़की को मरा हुआ मान लिया था.

पुलिस ने कहा कि 12 साल की लड़की के यौन उत्पीड़न के मामले में, आरोपी चोरी करने के इरादे से घर में घुसा था. पूछताछ के दौरान उसने बताया कि घर में बच्ची ने जब शोर मचाया तो उसने उसे पकड़ लिया और बिस्तर पर फेंक दिया और उसका मुंह पकड़कर उसे चुप कराने की कोशिश की. बच्ची ने उसे धक्का दिया तो उसने गुस्से में, सिलाई मशीन उठाई और कई बार बच्ची के सिर पर मारा, कैंची से उस पर वार किया और उसका यौन उत्पीड़न किया. उसने सोचा कि वह मर चुकी है, लेकिन जाने से पहले, उसने घर में सभी बैगों की जांच की और 200 रुपये चुरा लिए.

न्यूरोसर्जरी ICU में की गई शिफ्ट की गई बच्ची

बच्ची के साथ बहुत ही हैवानियत के साथ दुष्कर्म किया गया है. इसकी वजह से उसकी हालत बहुत ज्यादा गंभीर है. बच्ची को गंभीर चोटें आई है. बच्ची बेहोशी की हालत में है. एम्स में बच्ची का उपचार कर रहे डॉक्टर्स के मुताबिक मंगलवार को जब वह बच्ची अस्पताल आई थी, तब उसकी बहुत ज्यादा बुरी हालत थी. उसकी सर्जरी की गई है. डॉक्टर बच्ची की जान बचाने की कोशिश कर रहे हैं. फिलहाल बच्ची की हालत गंभीर है और उसे न्यूरोसर्जरी आईसीयू में ट्रांसफर कर दिया गया है. न्यूज एजेंसी ANI को मिली जानकारी के मुताबिक बच्ची वेंटिलेटर पर है और उसकी प्लेटलेट काउंट कम है. प्लेटलेट काउंट में सुधार के बाद उसे न्यूरोसर्जरी से गुजरना पड़ सकता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts