‘प्लीज मुझसे बात करती रहो जब तक मेरी स्कूटी वापस आती है, मैं बहुत डरी हुई हूं’

बहन ने वापस फोन करने का वादा करके फोन रख दिया था, उसे क्या पता था अब बहन की आवाज कभी नहीं सुन पाएगी.
Telangana vet Priyanka Reddy told sister in last call, ‘प्लीज मुझसे बात करती रहो जब तक मेरी स्कूटी वापस आती है, मैं बहुत डरी हुई हूं’

– प्लीज थोड़ी देर मुझसे बात करो. मुझे बहुत डर लग रहा है.

– सब मेरी तरफ घूर रहे हैं.

– प्लीज मुझसे बात करती रहो जब तक मेरी स्कूटी वापस आती है.

– वे(अजनबी) बाहर इंतजार कर रहे हैं.

– प्लीज मुझसे बात करती रहो. मैं बहुत डरी हुई हूं.

अपनी छोटी बहन से आखिरी बार बात करते हुए हैदराबाद की 26 वर्षीय वेटरनरी डॉक्टर ने ये शब्द बोले थे. टोल प्लाजा से रात 9.30 बजे के करीब पीड़िता ने अपनी बहन को फोन किया था. बहन ने वापस फोन करने के वादे के साथ फोन रखा था. करीब 15 मिनट के बाद छोटी बहन ने 9.44 बजे वापस फोन मिलाया तो उसकी डॉक्टर बहन का फोन स्विच्ड ऑफ बता रहा था. फिर से 10.30 बजे फोन किया तब भी फोन बंद था.

पीड़िता से संपर्क न हो पाने पर परिवार रात में ही टोल प्लाजा पहुंचा. वहां कोई निशान न मिलने पर गुरुवार की सुबह पुलिस को खबर की. सुबह 7 बजे पुलिस को सूचना मिली कि अंडरपास पर एक जली हुई डेडबॉडी मिली है. पुलिस मौके पर पहुंची और उसके कपड़ों से शिनाख्त हुई कि बॉडी रात को गायब हुई डॉक्टर की ही है. इसके बाद परिवार को सूचित किया गया. उन सभी के ऊपर मानो बिजली गिर पड़ी.

पंचर स्कूटी ने दरिंदों को दिया मौका

ये महिला डॉक्टर कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय में काम करती थीं. बुधवार को उन्होंने टोल प्लाजा के नजदीक अपनी स्कूटी पार्क की और कैब से काम पर पहुंची.रात में जब वह लौटी तो उन्होंने पाया कि उनकी स्कूटी पंक्चर है. महिला डॉक्टर ने अपनी बहन को स्थिति के बारे में बताया और यह भी जाहिर किया कि उन्हें डर लग रहा है क्योंकि आसपास सिर्फ लोडिंग ट्रक और अनजान लोग हैं.

इस पर बहन ने उन्हें टोल प्लाजा जाने या फिर स्कूटी छोड़ कैब से आने को कहा. महिला डॉक्टर ने अपनी बहन को बताया कि कुछ लोगों ने उन्हें मदद ऑफर की है और उन्होंने थोड़ी देर से कॉल बैक करने की बात कही. लेकिन बाद में जब परिवारजनों ने फोन लगाया तो फोन स्विच ऑफ आने लगा.

ये भी पढ़ें

कौन हैं डॉक्‍टर प्रियंका रेड्डी, जिनके लिए ट्विटर पर ट्रेंड चलाकर न्‍याय मांग रहे लोग

बहन की बजाय 100 नंबर पर किया होता फोन तो बच जाती जान- रूह कंपाने वाली घटना पर बोले मंत्री

Related Posts