गाजियाबाद : सो रहे बच्‍चों का गला घोंटा, फिर 8वीं मंजिल से कूद पति-पत्‍नी और महिला

पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें लिखा गया है कि परिवार ने यह कदम आर्थिक तंगी से जूझने के कारण उठाया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:44 am, Tue, 3 December 19
indore, indore crime news, indore suicide, indore family suicide, online betting, online gambling, online betting crime, online betting debt

दिल्ली से सटे गाजियाबाद के पॉश इलाके इंदिरापुरम से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक शख्स ने पहले तो अपने सोते हुए दो बच्चों की गला घोंटकर हत्या कर दी और फिर पति-पत्नी ने बालकनी से छलांग लगा दी, जिसमें उनकी भी मौत हो गई.

इतना ही नहीं इन लोगों के साथ एक और महिला ने बिल्डिंग की बालकनी से छलांग लगाई, जिसकी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो चुकी है. मृतकों की पहचान गुलशन वासुदेव, परवीन, संजना और बच्चे रितिका और रितिक के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि संजना, गुलशन के बिजनेस का काम संभालती थी.

इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई, जिसके बाद मौके पर पुलिस ने सभी की बॉडी को कब्जे में लेकर अस्पताल पहुंचाया और जांच शुरू कर दी है. पुलिस द्वारा मामले की शुरुआती जांच में पता चला है कि ये परिवार दिल्ली का रहना वाला था, जो कि हाल ही में यहां रहने आया था. उन्हें यहां किराए पर रहते हुए करीब डेढ़ महीने ही हुए थे, इसलिए आसपास के लोग उनके बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं.

पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें लिखा गया है कि परिवार ने यह कदम आर्थिक तंगी से जूझने के कारण उठाया. इतना ही नहीं घर की दीवार पर भी उन्होंने लिखा कि ‘हम पांचों की लाशें एक साथ जलाएं.’ इसके साथ ही उन्होंने 500 रुपए भी रखे थे, जो कि उन्होंने अपने क्रिया कर्म के लिए रखे थे.

पुलिस के मुताबिक, सूचना मिलने के बाद पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो अपार्टमेंट के नीचे एक पुरुष और दो महिला की बॉडी पड़ी हुई थी. उन्हें तुरंत अस्पताल भेजा गया.

इसके बाद पुलिस जब इन लोगों के घर में दाखिल हुई तो उनके होश उड़ गए. उन्हें घर के कमरे में दो मासूम बच्चों की लाश मिली, जिनकी उम्र दस साल और ग्यारह साल बताई गई है. फिलहाल पुलिस ने मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया है और आगे की जांच शुरू कर दी है.

 

ये भी पढ़ें-  झारखंड चुनाव 2019 : क्या हुआ जब मिले पुराने साथी सीएम रघुवर दास और सरयू राय ?

संस्‍कारों की कमी से हो रहे बलात्‍कार, इंटरनेट से बिगड़ रहे बच्‍चे, गहलोत के मंत्री का बयान