मकान मालिक के थप्पड़ से किराएदार की मौत, 100 वॉट का बल्ब इस्तेमाल करने पर हुआ था झगड़ा

उत्तर- पूर्वी (North-East) दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (Deputy Commissioner) वेद प्रकाश सूर्या ने कहा, मकान मालिक अमित पर गैर इरादतन हत्या के मामले में सेक्शन 304 के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

उत्तर- पूर्वी दिल्ली से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. एक मकान मालिक (Landlord) और किराएदार के बीच 100 वॉट के बल्ब को जलाने को लेकर झगड़ा इतना बढ़ गया कि किराएदार की मौत हो गई. पुलिस ने कहा कि मकान मालिक और किराएदार के बीच हाथापाई हुई. इस दौरान किराएदार का सिर सोफे के लकड़ी वाले हिस्से में टकराया और उसकी मौत हो गई.

अलीगढ़ के 35 वर्षीय जगदीश ई- रिक्शा चलाकर अपने परिवार का गुजारा करते थे. वह अपनी पत्नी वर्षा और 8 साल की बेटी के साथ पिछले दो साल से इसी घर में रह रहे थे.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

उत्तर- पूर्वी (North-East) दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (Deputy Commissioner) वेद प्रकाश सूर्या ने कहा कि मकान मालिक अमित पर गैर इरादतन हत्या के मामले में सेक्शन 304 के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है.

एक अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “जगदीश किराये का रिक्शा चलाकर अपना गुजारा करता  था. उसकी पत्नी गृहिणी थी. लॉकडाउन के दौरान यहां काम रुकने पर वो अलीगढ़ वापस नहीं गए. क्योंकि उन्हें वहां भी कोई काम शायद नहीं मिलता. जगदीश को उम्मीद थी कि उसका काम दोबारा शुरू हो जाएगा”

उन्होंने कहा, ‘घर का मकान मालिक पेशे से लोहार है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान उसकी भी कमाई पूरी तरह बंद हो गई थी. वो बिजली बिल बचाना चाहता था.’

मकान मालिक पर नशे में होने का आरोप

पुलिस कंप्लेंट के मुताबिक, शुक्रवार को करीब शाम 7 बजे अमित जगदीश के फैल्ट पर आया और पाया कि घर में  100 वॉट का बल्ब जल रहा है. इसके चलते विवाद शुरू हुआ था. वर्षा ने पुलिस स्टेटमेंट में कहा, “ वो मुझसे बल्ब के इस्तेमाल को लेकर गुस्सा हो गया. मैंने उसे समझाने की बहुत कोशिश की. कहा कि खाना बनाने के लिए लाइट की जरूरत है, लेकिन उसने बल्ब निकाला और चला गया.”

उसने अमित पर उस वक्त शराब के नशे में होने का आरोप भी लगाया है, लेकिन पुलिस को इस आरोप के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है.

ज्यादा पॉवर के बल्ब को लेकर हुआ झगड़ा

वर्षा के मुताबिक, कुछ समय बाद अमित कम पॉवर वाले बल्ब के साथ वापस आया और डांटना शुरू कर दिया. उसने आरोप लगाया, “मेरे पति उस समय टूटे हुए सोफे पर छत पर सो रहे थे. उन्होंने अमित को बार-बार चिल्लाने से मना किया. जिससे अमित को गुस्सा आ गया और उसने मेरे पति को जोरदार थप्पड़ मारा”

वर्षा के आरोप के मुताबिक, अमित के जोरदार थप्पड़ मारने से जगदीश नीचे गिर गया और उसका सिर टूट हुए सोफे की लकड़ी से टकरा गया. उसने कंप्लेंट में कहा, “ वह बेहोश हो गए. मैंने अपने कुछ रिश्तेदारों की मदद से उनकी ई- रिक्शा में उन्हें जीटीबी अस्पताल ले गई.”

लॉकडाउन में काम बंद होने से परेशान था मकानमालिक

पुलिस ने कहा कि डॉक्टर के मुताबिक सिर में लगी चोट के चलते जगदीश की मौत हो गई. इसके कुछ देर बाद अमित को गिरफ्तार कर उसका बयान रिकॉर्ड कर लिया गया है. पुलिस के अनुसार, उसका बिजनेस बंद होने की वजह से वो तनाव में था और इतना चाहता था कि कम से कम पॉवर का इस्तेमाल हो ताकि कुछ पैसे बच जाए.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts