एक बारकोड से कैसे पकड़ा गया हिट-एंड-रन केस का आरोपी रेडियो जॉकी

घटनास्थल से पुलिस को घटना की सीसीटीवी फुटेज और कार के टूटे हुए मड-फ्लैप के हिस्से और उस पर चिपका ये बारकोड मिला था.

नई दिल्ली: दिल्ली के वीवीआईपी इलाके रायसीना हिल्स पर हुए हिट-एंड-रन केस के आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया है. 30 जून की सुबह दिल्ली की रायसीना हिल्स रोड पर एक काले रंग की क्रेटा कार ने स्कूटी सवार को टक्कर मार दी थी जिसके बाद स्कूटी सवार युवक की मौत हो गई थी.

घटना की तस्वीरें वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी थीं. टक्कर मारते ही क्रेटा कार का चालक मौके से फरार हो गया था. जांच के दौरान इस हादसे में मारे गए शख्स की पहचान फ्री चर्च में रह रहे धीरज कुमार के रूप में हुईं थी. शुरुआत में धीरज के परिवार वाले इसे हत्या बता रहे थे, क्योंकि चर्च की अरबो की संपति को लेकर विवाद चल रहा था.

पुलिस के मुताबिक, घटनास्थल से पुलिस को घटना की सीसीटीवी फुटेज और कार के टूटे हुए मड-फ्लैप के हिस्से और उस पर चिपका ये बारकोड मिला था.

डीसीपी ने बताया कि गुलाटी सुबह 5.15 बजे क्लब से निकला और कनॉट प्लेस की तरफ जा रहा था तभी यह घटना हुई. गुलाटी ने बताया कि वह ड्राइव करते हुए फोन पर विडियो देख रहा था और स्कूटर नहीं देख पाया. एक्सिडेंट के बाद वह घटनास्थल से भागकर घर चला गया. उसने 1, जुलाई को कार रिपेयर करने के लिए भेज दी. पुलिस ने बताया कि कार को वर्कशॉप से जब्त कर लिया गया है.

आरोपी तक कैसे पहुँची पुलिस

फॉरेंसिक टीम से पता चला कि कार की नंबर प्लेट पर शुरुआती अक्षर डीएल और आखिर में 6 है. जिसके बाद पुलिस का काम थोड़ा आसान हो गया. पुलिस को पता चला कि दिल्ली में मौजूद इस बारकोड के साथ 313 काले रंग की क्रेटा कार में से 21 ऐसी हैं जिनके आखिर में 6 है.

लिहाजा, शनिवार को पुलिस कुछ कारों की छानबीन करने के बाद पटेल नगर में एक एफएम चैनल के रेडियो जॉकी अंकित गुलाटी के घर जा पहुँची, जिसकी कार घर से गायब थी. लिहाजा, पुलिस ने जब अंकित की कॉल डिटेल और लोकेश चेक की तो घटना वाली रात उसकी लोकेशन रायसीना हिलस पर ही थी. सख्ती से पूछताछ के बाद अंकित ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. बाद में पुलिस ने अंकित की निशानदेही पर उसकी ये क्रेटा कार भी बरामद कर ली.

आरोपी रेडियो जॉकी का कबूलनामा

पुलिस की पूछताछ में आरजे अंकित ने बताया कि वो नेहरू प्लेस में एक होटल से पार्टी कर उस रात नई दिल्ली जिले के दूसरे फाइव स्टार होटल में पार्टी करने जा रहा था. मोबाइल पर गूगल एप लगाया हुआ था.

गलत मोड़ लेते है वो गूगल मैप देखने के लिए मोबाइल उठाने लगा तो उसका ध्यान सड़क से हट गया और कार ने सीधे स्कूटी सवार धीरज को टक्कर मार दी. जिस्के बाद सबूत मिटाने के लिए अंकित ने गाड़ी की सर्विस स्टेशन में मरम्मत भी करवा दी.अब पुलिस जानने की कोशिश कर रही है कि घटना वाली रात अंकित शराब के नशे में तो नहीं था.

ये भी पढ़ें- लड़की ने बात करना छोड़ा तो लड़के ने सरेआम चाकुओं से गोद डाला, देखें CCTV फुटेज