निर्भया केस: फांसी टालने को विनय के वकील का नया पैंतरा, बताया मानसिक बीमारी से ग्रस्त

विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने याचिका में कहा है कि जब दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने 29 जनवरी को राष्ट्रपति के पास दोषी की याचिका खारिज करने की सिफारिश की तो वे मंत्री या विधायक पद पर नहीं थे.
nirbhaya convict vinay Sharma moves election commission, निर्भया केस: फांसी टालने को विनय के वकील का नया पैंतरा, बताया मानसिक बीमारी से ग्रस्त

निर्भया केस के चारों गुनाहगारों को फांसी पर लटकाने के लिए 3 मार्च की तारीख तय की गई है लेकिन वो सजा से बचने के लिए सारे पैंतरे आजमा रहे हैं. दोषी विनय शर्मा के वकील ने नया दांव चलते हुए चुनाव आयोग में याचिका दाखिल की है.

वकील का दावा- गैरकानूनी है याचिका खारिज करना

विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने याचिका में कहा है कि जब दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने 29 जनवरी को राष्ट्रपति के पास दोषी की याचिका खारिज करने की सिफारिश की तो वे मंत्री या विधायक पद पर नहीं थे. वकील ने कहा कि सत्येंद्र जैन ने 30 जनवरी को व्हाट्सऐप के जरिए अपने हस्ताक्षर भेजे.

याचिका में वकील एपी सिंह ने दावा किया है कि दिल्ली में उस दौरान चुनाव के लिए आदर्श चुनाव आचार संहिता चल रही थी, ऐसे में दया याचिका खारिज करना गैरकानूनी है. याचिका में मांग की गई है कि चुनाव आयोग संज्ञान लेकर मामले पर कार्रवाई करे.

विनय के वकील ने जज धर्मेंद्र राणा से कहा कि विनय को सर और हाथ में चोटें आई हैं वो मानसिक बीमारी से ग्रस्त है, मैं जेल में उससे मिलकर आया हूं, वो पहचान भी नहीं पा रहा है.

जस्टिस राणा ने कहा कि सोमवार को सुन लेते हैं. इस पर वकील एपी सिंह ने कहा कि आप थोड़ा जल्दी सुन लें, इलाज तो मिल जाएगा लेकिन जेल प्रशासन जो चीज़ें छिपा लेता है वो भी देखना चाहिए.

कोर्ट ने तिहाड़ जेल प्रशासन को विनय को तुरंत इलाज उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए. कोर्ट शनिवार दोपहर 12 बजे सुनवाई करेगा.

सजा से बचने का विनय शर्मा ने दीवार में लड़ाया सिर

विनय शर्मा ने फांसी की सजा से बचने के लिए 16 फरवरी को जेल की दीवार पर सिर दे मारा, जिससे उसके सिर पर मामूली चोट आई है. इससे पहले विनय तिहाड़ जेल में भूख हड़ताल पर चला गया था. याचिका में कहा गया है कि विनय को गंभीर मानसिक बीमारियां हैं. उसने खुद को चोट पहुंचाने की कोशिश की है. उसके सिर और दाहिने हाथ में चोटें आई हैं. विनय की मानसिक स्थिति को देखते हुए उसे उच्च स्तरीय इलाज उपलब्ध कराया जाए.

ये भी पढ़ेंः

निर्भया के दोषी विनय ने खुद को किया घायल, जेल की दीवार पर दे मारा सिर

दुष्कर्म-हत्या मामलों में जल्द फैसले के लिए ‘दिशा’ के परिजनों के प्रस्ताव पर गौर कर रही सरकार

Related Posts