गौरव चंदेल मर्डर केस : पुलिस को मिला मोबाइल, हत्‍यारों ने एक और को बनाया था शिकार

हालांकि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि जिस शख्स के पास मोबाइल से मिला है, उसका गौरव की हत्या से कोई लेना-देना है या नहीं. 

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में  6 जनवरी को हुई गौरव चंदेल की हत्या में पुलिस को एक और अहम सुराग मिला है. पुलिस के हाथों गौरव का मोबाइल लग गया है. ऐसा कहा जा रहा है कि अब पुलिस गौरव के हत्यारों तक जल्द ही पहुंच सकती है.

जानकारी के मुताबिक, गौरव की हत्या करने के बाद बदमाशों ने उनके मोबाइल को घटनास्थल के आस पास ही फेंक दिया था. पुलिस ने मोबाइल ट्रैस किया तो यह एक व्यक्ति के पास से बरामद हुआ, जिसका कहना है कि उसे यह मोबाइल पड़ा हुआ मिला था.

हालांकि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि जिस शख्स के पास मोबाइल से मिला है, उसका गौरव की हत्या से कोई लेना-देना है या नहीं.

हत्यारों ने बनाया था एक और शिकार

इतना ही नहीं यह जानकारी भी सामने आई है कि गौरव चंदेल की गाड़ी की मदद से बदमाशों ने एक लूट को और अंजाम दिया था. मंगलवार रात को बदमाशों ने एक टियागो गाड़ी को टक्कर मारकर लूटपाट को अंजाम दिया था. बदमाशों ने इस घटना को अंजाम गाजियाबद के महरौली में दिया था.

बताया जा रहा है कि मंगलवार रात मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाले चिराग अग्रवाल की टियागो गाड़ी को गौरव चंदेल की गाड़ी से टक्कर मारी गई. इसके बाद बदमाशों ने चिराग से रुपये लूटे और फिर उनसे उनकी गाड़ी लूटकर फरार हो गए.

टियागो गाड़ी के साथ बदमाशों ने गौरव की गाड़ी को गाज़ियाबाद आकाश नगर में खड़ा कर दिया था.

STF को कार जैकिंग गिरोह पर शक

हत्याकांड की जांच में जुटी एसटीएफ को कार जैकिंग करने वाले गिरोह पर गौरव की हत्या करने का शक है. लिहाजा एसटीएफ इसी एंगल पर जांच को आगे बढ़ा रही है. पुलिस को इस मामले में मिर्ची गैंग के साथ-साथ कुछ अन्य गैंग पर शक है, जिसके आधार पर जांच की जा रही है.

दरअसल इसकी वजह यह भी है कि हत्यारे जब गौरव चंदेल की कार को गाज़ियाबाद में खड़ी करने जा रहे थे तो उस दौरान गौरव चंदेल की कार के आगे एक और कार चल रही थी. सूत्रों के मुताबिक, उसमें हत्यारे बैठे होंगे. गौरव चंदेल के आगे जो कार चल रही थी, जो कि उसी रात गाजियाबाद के कवि नगर से चोरी की गई थी.

 

ये भी पढ़ें-   ट्रंप ने कहा ‘भारत से नहीं लगी चीन की सीमा’ तो बीच मीटिंग से उठ गए मोदी, किताब में दावा

बड़ा खुलासा : अयान अल-असद एयरबेस पर ईरान के मिसाइल अटैक में घायल हुए थे 11 अमेरिकी सैनिक