गर्भवती लड़की को बंधक बनाकर 12 घंटे तक गैंगरेप, सदमे में मंगेतर ने की खुदकुशी

पीड़ित युवक ने पुलिस में शिकायत करने के बजाए चुप रहना जरूरी समझा और वह अपनी मंगेतर को लेकर घर चला गया. हालांकि यह सब उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था और उसने मौत को गले लगा लिया.

बांसवाड़ा: देश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर तमाम कोशिशों के बावजूद उनके खिलाफ होने वाले अपराधों में गिरावट नहीं आई है. देश के किसी न किसी कोने से रोज महिलाओं, लड़कियों और बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न, रेप और गैंगरेप जैसी घटनाएं सामने आती हैं, लेकिन इन्हें लेकर कोई भी ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं.

अब ताजा मामला राजस्थान के बांसवाड़ा से सामने आया है, जहां पर दरिंदों ने एक गर्भवती युवती के साथ करीब 12 घंटे तक गैंगरेप किया. इससे आहत हो युवती के मंगेतर ने आत्महत्या कर अपनी जान दे दी. यह घटना उस समय हुई जब युवती अपने मंगेतर के साथ घूमने निकली थी.

पहले पुलिस को गैंगरेप की जानकारी नहीं थी. दरअसल पुलिस को पता चला था कि सदर थाना क्षेत्र निवासी एक लड़के ने खुदकुशी कर ली है. पुलिस ने जब खुदकुशी के कारण का पता लगाया तो लड़के की मंगेतर के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए सारे आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. यह घटना 13 जुलाई को घटी, जब युवक अपनी मंगेतर को लेकर कहीं से आ रहा था. रास्ते में तीन युवकों ने उनपर हमला बोल दिया. दोनों को बेहोशी की हालत में आरोपी अपने ठिकाने पर ले गए, जहां पर दो युवक पहले से मौजूद थे. यहां उन्होंने पीड़ित युवक के साथ काफी मारपीट की और युवती के साथ कई बार रेप किया.

इसके बाद आरोपी दोनों को सड़क किनारे फेंक फरार हो गए. युवती का मेडिकल कराया गया तो सामने आया कि युवती पहले से ही गर्भवती थी और पिटाई व रेप के कारण उसका बच्चा गर्भ में ही मर गया. पीड़ित युवक ने पुलिस में शिकायत करने के बजाए चुप रहना जरूरी समझा और वह अपनी मंगेतर को लेकर घर चला गया. हालांकि यह सब उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था और उसने मौत को गले लगा लिया.

फिलहाल पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इन लोगों पर पहले से ही चोरी के कई मामले दर्ज हैं.

 

ये भी पढ़ें-     फरीदाबाद DCP विक्रम कपूर ने किया सुसाइड, खुद की सर्विस रिवाल्वर से मारी गोली

आर्टिकल 370 और 35ए को क्यों बनाए रखना चाहते हैं? PM मोदी का विरोधियों से सवाल