13 साल की बच्‍ची को पिता ने 7 लाख में बेच दिया था, पुलिस ने भिखारी का रूप धर ढूंढा, पेट में 4 महीने का गर्भ

13 साल की एक बच्‍ची को उसके शराबी पिता ने 7 लाख रुपये के लिए जून में बेच दिया था. पुलिस ने उसे ढूंढा तो पता चला कि वो 4 महीने की गर्भवती है.

Rajasthan Crime News: राजस्‍थान के बाड़मेर में बाल विवाह का एक खौफनाक मामला सामने आया है. 13 साल की एक बच्‍ची को उसके शराबी पिता ने 7 लाख रुपये के लिए जून में बेच दिया था. चाचा ने पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई. एक टीम हैदराबाद पहुंची और भिखारी का रूप धर बच्‍ची को खरीदने वाले को पकड़ लिया. पता चला कि नाबालिग 4 महीने की गर्भवती है.

बच्‍ची सिवाना तहसील के एक गांव में रहती थी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उसका पिता शराबी है. 22 जून को गोपा राम माली नाम के एक बिचौलिए ने आरोपी पिता को बताया कि उसने एक अच्‍छे परिवार में उसकी बेटी का रिश्‍ता तय किया है. पिता अपनी बेटी को दूल्‍हे के परिवार से मिलाने के बहाने सिवाना ले गया. वापस आया तो उसके साथ लड़की नहीं थी. उसने अपने छोटे भाई से कहा कि वह बच्‍ची को मामा के घर छोड़ आया है.

26 जून को पता चला कि लड़की अपने मामा के यहां नहीं है. पिता ने फिर कहा क‍ि कुछ लोगों ने उसका अपहरण कर लिया है. इसके बाद परिवार ने गुमशुदगी की एक FIR दर्ज कराई.

पुलिस ने जांच शुरू की तो लड़की को बेचे जाने की बात पता चली. जब पुलिस को बच्‍ची का पता नहीं लगा तो चाचा ने राजस्‍थान हाई कोर्ट में याचिका लगाई. इसी बीच पुलिस को लड़की के हैदराबाद में होने का पता चला. पुलिस टीम ने भिखारी बनकर रेड की ताकि कोई पहचान ना सके.

लड़की के पिता, बिचौलिए और सांवला राम गुप्‍ता (जिसे लड़की बेची गई) को अरेस्‍ट कर लिया गया है.

ये भी पढ़ें

महिला का कटा सिर लेकर पहुंचा थाने, पुलिस से बोला- मेरी पत्‍नी का है, अरेस्‍ट

गर्लफ्रेंड का सिर काटा फिर नदी में फेंक आया लाश के टुकड़े, प्रोफेसर के बैग से मिला हाथ