दसवीं फेल लड़कों ने PhD के 1000 छात्रों को लगाया चूना, ठगे 2 करोड़ रुपये

आरोपियों से पूछताछ में पाया गया कि वो PhD छात्रों को उनके रिसर्च पेपर इंटरनेशनल जनरल में छपवाने का झांसा देकर ठग रहे थे.
Tenth failed boys cheated, दसवीं फेल लड़कों ने PhD के 1000 छात्रों को लगाया चूना, ठगे 2 करोड़ रुपये

गाजियाबाद : मसूरी पुलिस ने डासना के शक्ति नगर से ठगी के जुर्म में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. तीनों आरोपी एक कमरे से ठगी के बड़े नेटवर्क को हैंडल कर रहे थे. बड़ी बात ये कि 10वीं फेल तीनों युवकों ने भारत समेत दूसरे देशों के PhD छात्रों से पैसे ऐंठे हैं. पुलिस आरोपियों के गिरोह में शामिल दूसरे साथियों की तलाश कर रही है.

तीनों आरोपियों से छानबीन में पुलिस को दो लैपटॉप, कुछ पासबुक, 11 ATM कार्ड और दूसरे सामान मिले हैं.

पुलिस ने बताया कि एक मुखबिर के जरिए उनको शक्ति नगर में चल रहे ठगी गिरोह की सूचना मिली. मुखबिर ने बताया कि इलाके के एक कमरे में कुछ युवक कंप्यूटर के जरिए गलत काम को अंजाम दे रहे हैं. सूचना मिलने के बाद बुधवार को पुलिस ने छापेमारी की.

पकड़े गए आरोपियों के नाम पुनीत कुमार, परवेज और चंद्रशेखर हैं. आरोपियों से पूछताछ में पाया गया कि वो PhD छात्रों को उनके रिसर्च पेपर इंटरनेशनल जनरल में छपवाने का झांसा देकर ठग रहे थे. इसमें नार्वे, इंग्लैंड, जर्मनी, फ्रांस, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया, पाकिस्तान समेत कई दूसरे देशों के हजारों छात्रों को निशाना बनाया गया.

ठगों ने झांसा देने के लिए वेबसाइट बना रखी थी. आरोपी समय-समय पर वेबसाइट बदलते रहते थे. उनकी मौजूदा वेबसाइट www.ijhss.org नाम से थी. रिसर्च पब्लिश करवाने के नाम पर आरोपी 50-100 डॉलर वसूलते थे. इन तरीकों से आरोपियों ने 2 करोड़ रुपये की कमाई कर डाली है.

ये भी पढ़ें-

पेट में छिपाकर ला रहे थे 2 करोड़ की हेरोइन, इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से तीन गिरफ्तार

राजस्थान: कश्मीरी युवक की हत्या मामले में आरोपी गिरफ्तार, पुलिस का मॉब लिंचिंग से इनकार

Related Posts