मां-बहन की सड़ी-गली लाशों के साथ 2 महीने तक सोती रही महिला, बदबू आने पर हुआ खुलासा

दीपा को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है. दीपा की मेडिकल रिपोर्ट्स आने के बाद ये फैसला लिया जायेगा कि उन्हें अस्पताल में रखा जायेगा या किसी शेल्टर होम में.

अयोध्या से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. आदर्श नगर स्थित एक घर में एक महिला 2 महीनों से अपनी मां और अपनी बहन की लाशों के साथ रह रही थी. घर से बहुत ज्यादा बदबू आने की वजह से पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया. पुलिसवालों ने जब घर का दरवाजा तोड़ा तो पाया कि दीपा नाम की महिला अपनी मां पुष्पा श्रीवास्तव और बहन विभा की लाश के पास सो रही थी.

आदर्श नगर देवकाली थाना क्षेत्र में आता है. सर्किल अफसर से बात करने पर पता लगा कि दीपा के पिता, पूर्व एसडीएम विजेंद्र श्रीवास्तव कि मृत्यु 1990 में हो गयी थी. इसके बाद दीपा इस घर में अपनी मां और तीन बहनों के साथ रहती थी. उसकी बड़ी बहन रुपाली का निधन कुछ साल पहले ही हो चुका है.

रुपाली की मौत के बाद पुष्पा और उनकी 2 बेटियां विभा और दीपा सदमे में थीं, जिसके चलते उन्होंने घर से बाहर आना जाना काफी काम कर दिया था. पुष्पा और विभा की मौत दो महीने पहले ही हो चुकी थी और दीपा 2 महीने से उन दोनों की लाशों के साथ उस घर में रह रही थी.

दीपा को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है. दीपा की मेडिकल रिपोर्ट्स आने के बाद ये फैसला लिया जायेगा कि उन्हें अस्पताल में रखा जायेगा या किसी शेल्टर होम में. पुलिस ने मौत की वजह पता करने के लिए पुष्पा और विभा की लाशों को पोस्ट मोर्टेम के लिए भेज दिया है.

ये भी पढ़ें-

करतारपुर कॉरिडोर पर PAK का एक और यू-टर्न, उद्घाटन के दिन भी श्रद्धालुओं से वसूलेगा पैसे

करतारपुर के बहाने साजिश रच रहा पाकिस्‍तान, लिखा- भारत ने यहां बरसाए थे बम

यूपी: केसरिया रंग में रंगी बिल्डिंग को मंदिर समझ पूजते रहे लोग, निकला शौचालय