औरंगाबाद: एड्स का मरीज बताकर महिला ने खुद का रेप होने से बचाया

पीड़िता ने बताया कि घटना के वक्त वो अपनी 7 साल की बेटी के साथ बाजार से वापस अपने घर जा रही थी. लेकिन उसके पास किराए के लिए पर्याप्त पैसे नहीं थे.
Rape, औरंगाबाद: एड्स का मरीज बताकर महिला ने खुद का रेप होने से बचाया

मुंबई: महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक महिला ने अपनी सूझबूझ से खुद को एक दरिंदे के वहशीपन से बचा लिया. वो दरिंदा महिला का बलात्कार करने ही वाला था कि पीड़िता ने खुद को एड्स होने की बात कह दी. ये सुनते ही आरोपी ने महिला को छोड़ दिया और वहां से फरार हो गया.

इसके बाद पीड़िता ने पुलिस थाने जाकर शिकायत दर्ज कराई. महिला ने बताया कि घटना के वक्त वो अपनी 7 साल की बेटी के साथ बाजार से वापस अपने घर जा रही थी. लेकिन उसके पास किराए के लिए पर्याप्त पैसे नहीं थे.

कैब के इंतजार में खड़ी थी पीड़िता
इसे देखते हुए महिला रास्ते में खड़े होकर शेयरिंग कैब का इंतजार करने लगी. इसी दौरान वहां पर बाइक से एक 22 वर्षीय युवक आया. वो महिला और उसकी बेटी को बाइक पर बिठाकर ले जाने लगा.

पीड़िता ने खुद को बताया एड्स मरीज
युवक की नियत गंदी थी. वो महिला और उसकी बेटी को एक सुनसान जगह पर लेकर चला गया और चाकू दिखाकर महिला से बलात्कार करने की कोशिश करने लगा. लेकिन पीड़िता घबराई नहीं और आरोपी से खुद को एड्स का मरीज बताया.

पिता की हत्या का भी आरोपी
आरोपी यह बात सुनकर वहां से फरार हो गया. पीड़िता अपनी बेटी के साथ पुलिस के पास पहुंची. पुलिस ने महिला के बताए अनुसार आरोपी का स्केच बनवाया. पुलिस ने आरोपी किशोर विलास को गिरफ्तार कर लिया है. विलास अपने पिता की हत्या का आरोपी है.

Related Posts