मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पीड़िता से बलात्कार पर महिला आयोग ने लिया संज्ञान, समिति गठित

समिति सितंबर में दो दिनों के लिए मुजफ्फरपुर का दौरा भी करेगी, जहां वह पुलिस महानिदेशक, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पीड़िता से मिलेगी.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की पीड़िता से चलती कार में बलात्कार के मामले पर स्वतः संज्ञान लेते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोमवार को जांच के लिए एक समिति गठित कर दी है. इसी के साथ बिहार के डीजीपी को नोटिस भेजते हुए आयोग ने मामले को प्राथमिकता पर रखते हुए जल्द जांच करने को भी कहा.

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा इस समिती का नेतृत्व करेंगी. समिति सितंबर में दो दिनों के लिए मुजफ्फरपुर का दौरा भी करेगी, जहां वह पुलिस महानिदेशक, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पीड़िता से मिलेगी. रेखा शर्मा ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी. समिती 19 और 20 सितंबर को बिहार जाएगी.

उन्होंने ट्वीट में लिखा, बिहार से हमारे सदस्य लगातार दौरे करते हैं और उन्होंने ही महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध का मामल उठाया है. उन्होंने कहा कि चीजों में सुधार होता नहीं दिख रहा है. रेखा शर्मा ने आगे कहा, “मैं सभी मामलों पर निजी तौर पर बिहार के डीजीपी से और हो सका तो मुख्यमंत्री से चर्चा करूंगी.”

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि पीड़िता को मदद की जगह बुरे माहौल से गुजरना पड़ा. आयोग उसे मदद उपलब्ध कराएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि आयोग पीड़ित महिला की सुरक्षा भी सुनिश्चित करेगा.  मालूम हो कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की एक लड़की के साथ बेतिया शहर में चलती कार में चार व्यक्तियों ने कथित तौर पर उसका बलात्कार किया था.

ये भी पढ़ें: ODD-EVEN के खिलाफ NGT में याचिका, कहा- ‘प्रदूषण कम होने की बजाय बढ़ती है परेशानी’