फोटोशूट पर कांग्रेस-बीजेपी में जुबानी जंग, ‘मोदी प्राइम टाइम मिनिस्‍टर’ तो ‘राहुल फर्जी खबरों के उस्‍ताद’

Share this on WhatsAppनई दिल्‍ली। पुलवामा हमले के बाद जिम कॉर्बेट में पीएम मोदी के फोटो सेशन पर विपक्ष और सत्ता पक्ष में तलवारें खिंच गई हैं. इस मसले पर कांग्रेस ने दूसरे दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सरकार और पीएम पर निशाना साधा, वहीं राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि पुलवामा में 40 जवानों […]

नई दिल्‍ली। पुलवामा हमले के बाद जिम कॉर्बेट में पीएम मोदी के फोटो सेशन पर विपक्ष और सत्ता पक्ष में तलवारें खिंच गई हैं. इस मसले पर कांग्रेस ने दूसरे दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सरकार और पीएम पर निशाना साधा, वहीं राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि पुलवामा में 40 जवानों की शहादत की खबर के तीन घंटे बाद भी पीएम फिल्म शूटिंग करते रहे. राहुल गांधी के ट्वीट पर बीजेपी ने पटलवार किया है. पार्टी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर देश की जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है. जिम कार्बेट में पीएम मोदी के फोटोशूट विवाद पर लगातार दूसरे दिन कांग्रेस ने राजधानी दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रधानमंत्री का घेराव किया.
कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि 14 फऱवरी को ‘पुलवामा में आतंकी हमला शाम 3 बजकर 10 मिनट पर हुआ था, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 बजकर 10 मिनट पर मोबाइल फोन के जरिए उत्तराखंड के रुद्रपुर में जनसभा को संबोधित किया इतना ही नहीं पीएम ने अपने संबोधन में पुलवामा आतंकी हमले के बारे में एक शब्द भी जिक्र नहीं किया, कांग्रेस के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शहीद सीआरपीएफ जवानों के सम्मान में 2मिनट का मौन भी नहीं रखा.’
मोदी पर राहुल ने किया वार
राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ‘पुलवामा में 40 जवानों की शहादत की खबर के तीन घंटे बाद भी‘प्राइम टाइम मिनिस्टर’ फिल्म शूटिंग करते रहे। देश के दिल व शहीदों के घरों में दर्द का दरिया उमड़ा था और वे हंसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे.’ राहुल ने अपने ट्वीट हैंडिल पर इससे संबंधित कुछ फोटो भी शेयर किए हैं.
राहुल पर बीजेपी का पलटवार
राहुल गांधी के ट्वीट के बाद बीजेपी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. बीजेपी का कहना है कि राहुल गांधी ने जो फोटो शेयर किए हैं, वो 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले से पहले की हैं. राहुल के ट्वीट का जवाब देते हुए बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘राहुल जी, भारत आपकी फर्जी खबरों से थक गया है. देश को गुमराह करने के लिए 14 फऱवरी की सुबह की तस्वीरें साझा करना बंद करें. हो सकता है कि आपको हमले की सूचना पहले से थी, लेकिन भारत के लोगों को शाम को पता चला. अगली बार एक बेहतर स्टंट अपनाएं, जिसमें सैनिकों का बलिदान शामिल न हों.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *