कोविड से बचने के लिए ‘केबीसी 12’ के सेट पर फेस शील्ड में दिखे बिग बी, कहा- सुरक्षित रहो…

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) 77 साल के हो चुके हैं, लेकिन काम को लेकर जो उनके पैशन है वो आज भी पहले जैसा ही है. अमिताभ ने गुरुवार को केबीसी 12 (KBC 12) के लिए लगातार 17 घंटे तक शूटिंग की.

कोविड-19 (Covid-19) से जंग जीतने के एक महीने बाद बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने ‘कौन बनेगा करोड़पति’ सीजन 12 (KBC 12) की शूटिंग शुरू कर दी. शूटिंग शुरू होने के बाद से ही अमिताभ सोशल मीडिया पर सेट की तस्वीरें और वीडियो शेयर कर रहे हैं. अपनी सुरक्षा को लेकर तो अमिताभ एहतियात बरत ही रहे हैं, साथ ही दिखाते हैं कि कैसे पूरा क्रू कोविड-19 के नियमों का पालन कर रहा है.

इस बीच अमिताभ बच्चन ने केबीसी 12 के सेट से खुद की एक तस्वीर इंस्टाग्राम पर शेयर की है, जिसमें वह नीले रंग का सूट पहने और एक शील्ड से अपना चेहरा ढंके हुए दिखाई दे रहे हैं. इस तस्वीर को शेयर करते हुए अमिताभ ने लिखा- “सुरक्षित रहो… और सुरक्षा में रहो.”

View this post on Instagram

… be safe .. and be in protection ..

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan) on

ये भी पढ़ें- सुशांत के फैंस के लिए गुड न्यूज, बन गया एक्टर का पहला वैक्स स्टैच्यू

एक दिन में 17 घंटे की केसीबी 12 की शूटिंग

अमिताभ बच्चन 77 साल के हो चुके हैं, लेकिन काम को लेकर जो उनके पैशन है वो आज भी पहले जैसा ही है. अमिताभ ने गुरुवार को केबीसी 12 के लिए लगातार 17 घंटे तक शूटिंग की. देर रात घर लौटने के बाद तड़के 2:37 पर उन्होंने एक ब्लॉग लिखकर इसकी जानकारी दी. उन्होंने लिखा- “कुछ देर पहले काम से लौटा हूं और यह एक दिन में लगभग 17 घंटे काम किया. कोविड-19 के बाद शरीर के लिए इतना पर्याप्त और फायदेमंद है.”

साथ ही उन्होंने शो के एक कंटेस्टेंट के बारे में भी बात की. फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट जीतने वाले कंटेस्टेंट्स के भाव को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा- “आर्थिक संघर्ष के बावजूद कंटेस्टेंट्स के चेहरे पर मुस्कराहट होती है. वे इमोशनल हो जाते हैं, हाथ जोड़ते हैं, हॉट सीट के लिए बेकाबू हो जाते हैं कि इंतजार फाइनली खत्म हुआ.”

ये भी पढ़ें- महीनों बाद काम पर लौटे रणवीर सिंह, ‘जयेशभाई जोरदार’ की डबिंग के लिए पहुंचे यशराज स्टूडियो

अमिताभ ने आगे लिखा- “कंटेस्टेंट को उम्मीद बंध जाती है कि अब उनके लोन चुक जाएंगे, वे बीमारों का इलाज करा सकेंगे, अपना घर बना सकेंगे और अपने बच्चों का भविष्य सुरक्षित कर पाएंगे. कई लोगो ने अपनी पूरी जिंदगी में इतना बड़ा चेक हाथ में नहीं पकड़ा. कई उस अमाउंट में जीरो पर अटक जाते हैं, क्योंकि वे इन्हें गिनना शुरू कर देते हैं और सही जवाब देने की इतनी खुशी, जैसे कि उन्होंने इसकी उम्मीद भी नहीं की थी.”

Related Posts