मशहूर कलाकार अनुपम श्याम ओझा ने जताया सीएम योगी का आभार, लिखा भावुक पत्र

योगी ने अभिनेता को उस दौरान वित्तीय मदद दी थी, जब वे अपना इलाज करा रहे थे. एक भावुक पत्र में अभिनेता ने कहा कि वह ठीक होते ही योगी आदित्यनाथ से मिलकर उन्हें व्यक्तिगत रूप से धन्यवाद देना चाहते हैं.

‘मन की आवाज प्रतिज्ञा’ में अपने अभिनय से प्रसिद्धी हासिल करने वाले टीवी अभिनेता अनुपम श्याम ओझा (Anupam Shyam Ojha) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का आभार व्यक्त किया है. योगी ने अभिनेता को उस दौरान वित्तीय मदद दी थी, जब वे अपना इलाज करा रहे थे.

प्रतापगढ़ के रहने वाले अभिनेता का मुंबई में किडनी की बीमारी का इलाज चल रहा है और मुख्यमंत्री ने उन्हें इलाज का खर्च उठाने के लिए 20 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी थी.

एक भावुक पत्र में अभिनेता ने कहा कि वह ठीक होते ही योगी आदित्यनाथ से मिलकर उन्हें व्यक्तिगत रूप से धन्यवाद देना चाहते हैं.
अभिनेता ने राज्य में फिल्म सिटी के निर्माण की घोषणा के लिए भी मुख्यमंत्री को बधाई दी है.

यह भी पढ़ें: ‘क्षितिज के चेहरे के सामने जूता रख NCB अफसर बोले येही है तेरी औकात’ – आरोप

महाराष्ट्र (Maharashtra) की फिल्म नगरी में मचे बवाल के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने एक बड़ा दांव खेला है. सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश में देश की सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी (Film City) बनवाने की बात कही है. नई फिल्म सिटी के लिए नोएडा या ग्रेटर नोएडा का चुनाव किया गया है. साथ ही सीएम ने इसके लिए अधिकारियों को कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया है.

सीएम योगी ने कहा कि हम देश की सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी बनाएंगे. नई फिल्म सिटी नोएडा या ग्रेटर नोएडा में हो सकती है. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इसके लिए कार्य योजना तैयार करते हुए कहा कि शासकीय योजनाओं का लाभ पात्रों तक पहुंचाना सुनिश्चित करें.

यह भी पढ़ें:  गायक नहीं लेकिन मैं समझता हूं कि अच्छा संगीत क्या है- मनोज बाजपेयी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की आवश्यकता है. उत्तर प्रदेश यह जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार है. हम एक उम्दा फ़िल्म सिटी तैयार करेंगे. फ़िल्म सिटी के लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र बेहतर होगा.

उन्होंने आगे कहा कि यह फ़िल्म सिटी फ़िल्म निर्माताओं को एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराएगी, साथ ही रोजगार सृजन की दृष्टि से भी अत्यंत उपयोगी प्रयास होगा. इस दिशा में भूमि के विकल्पों के साथ यथाशीघ्र कार्य योजना तैयार की जाए.

Related Posts