‘सर हिमालय का झुकने न देंगे’ देशभक्ति गाने के साथ अनुपमा चौहान ने किया डेब्यू

अनुपमा ने पद्मभूषण, पद्मश्री व पद्म विभूषण से सम्मानित उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान साहब और उनके बेटे कादिर मुस्तफा खान साहब से संगीत सीखा है.

अनुपमा चौहान म्यूजिक इंडस्ट्री में देश भक्ति गाने के साथ कदम रख रही है. उनका देशभक्ति गीत ‘सर हिमालय का झुकने न देंगे’ स्वतंत्रता दिवस पर (15 अगस्त को) रिलीज हुआ. अनुपमा की आवाज संगीत प्रेमियों को आकर्षित कर रही है.

अनुपमा का परिवार संगीत से जुड़ा रहा है. अनुपमा ने 3 साल की उम्र से संगीत का प्रशिक्षण लेना शुरू किया.

वह बताती हैं, “मेरे पिता ने 14 सालों तक संगीत का प्रशिक्षण लिया और यह उनका कला से प्रेम ही था कि उन्होंने इसमें मुझे आगे बढ़ाया.”

सिंगिंग स्टार अनुपमा ने इंडस्ट्री के अच्छे गुरुओं से संगीत सीखा है. वह कहती है, “मेरा सौभाग्य रहा कि मैं संगीत बिरादरी की किशोरी अमोनकर जी से मिली. उन्हें भारत के महान शास्त्रीय गायक के रूप में जाना जाता है, दिवंगत किशोरी अमोनकर जी को मैं प्यार से ताई बुलाती थी. उन्होंने एक साल ज्यादा समय तक मुझे संगीत का प्रशिक्षण दिया.”

अनुपमा ने कहा कि बाद में मैंने पद्मभूषण, पद्मश्री व पद्म विभूषण से सम्मानित उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान साहब व उनके बेटे कादिर मुस्तफा खान साहब से प्रशिक्षण लिया.

अपने बॉलीवुड से जुड़ाव पर वह कहती हैं, “प्लेबैक सिंगिंग के बारे में जानना जरूरी है इसके लिए मैंने ललित पंडितजी के संरक्षण में प्रशिक्षण लिया. मैं भाग्यशाली रही कि मुझे रवींद्र जैन से सीखने का मौका मिला, जो अब हमारे बीच नहीं हैं.”

अपने डेब्यू नंबर को लेकर अनुपमा काफी रोमांचित है. उन्होंने कहा कि वह बेहद टैलेंटेड लोगों के साथ काम कर रही है. उनके गीत को रिजवान पांडेय द्वारा प्रोड्यूस किया गया है. इसका लिरिक्स व कंपोजिशन के.पी.सिंह ने दिया है. म्यूजिक वीडियो को नितेश सिन्हा ने निर्देशित किया है.