• Home  »  अभी अभी   »   खूबसूरती ये नहीं है कि हम कैसे दिखते हैं बल्कि इस बात में है कि बतौर इंसान हम कैसे हैं : श्वेता बसु प्रसाद

खूबसूरती ये नहीं है कि हम कैसे दिखते हैं बल्कि इस बात में है कि बतौर इंसान हम कैसे हैं : श्वेता बसु प्रसाद

अपने किरदार के साथ ही टेलीप्ले का कंसेप्ट भी श्वेता को बहुत पसंद है. वह मानती हैं कि कोविड-19 के दौरान ये एक राहत के तौर पर सामने आया है

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 5:00 pm, Fri, 18 September 20

जी थिएटर का टेलीप्ले ‘गुड़िया की शादी’, खूबसूरती को लेकर, खासकर महिलाओं के लिए, समाज द्वारा निर्धारित मानदंडों पर हल्की-फुल्की चुटकी है. शो में गुड़िया की मुख्य भूमिका निभा रहीं श्वेता बसु प्रसाद, एक मजबूत और आत्मविश्वास से भरी हुई लड़की हैं. जिसको अपनी त्वचा के रंग पर नाज है और शायद ही कभी इस समाज की सोच से प्रभावित होती हैं. किसी वजह से अपनी शादी के ठीक पहले गुड़िया अपनी भौंहें गवां देती है. इस घटना के बाद, गुड़िया को न सिर्फ अपनी भौहें गवांने के सदमे से निपटना पड़ता है, बल्कि अपने परिवार के लोगों से भी भला-बुरा सुनना पड़ता है. अपने बेपरवाह व्यक्तित्व की वजह से गुड़िया जल्द ही इस घटना में हास्य और सकारात्मकता तलाश लेती है. वह अपने परिवार को समझाने की कोशिश करती है कि सब कुछ खत्म नहीं हो गया है.

गुड़िया का किरदार निभा रहीं श्वेता व्यक्तिगत तौर भी खूबसूरती की इस परंपरागत परिभाषा को नहीं पचा पाती हैं. वह कहती हैं, “एक समाज के तौर हमने खूबसूरती को बेहद सीमित दायरे में बांध दिया है. यहां सुंदरता की परिभाषा यह है कि आप कैसे दिखते हैं बजाए इसके कि एक इंसान के तौर पर आप कैसे व्यक्ति हैं. ”हालांकि शो ऐसे दुखद मुद्दे को उठाता है, लेकिन श्वेता गुड़िया की भूमिका को अपने जीवन का सबसे सकारात्मक किरदार मानती हैं. वह कहती हैं, “एक एक्टर के तौर पर गुड़िया का किरदार मेरे द्वारा निभाया गया सबसे सकारात्मक और आशावादी कैरेक्टर है. इस प्ले का हिस्सा बनना मेरे लिए गर्व की बात है.”

[ यह भी पढ़ें : बिहार के विधायक ने दिया बड़ा बयान – कहा ” सुशांत सिंह अगर राजपूत होता तो कभी सुसाइड नहीं करता” ]

अपने किरदार के साथ ही टेलीप्ले का कंसेप्ट भी श्वेता को बहुत पसंद है. वह मानती हैं कि कोविड-19 के दौरान ये एक राहत के तौर पर सामने आया है. जहां तक ‘गुडिया की शादी’ की बात है, यह थिएटर के साथ उनकी पहली कोशिश थी, और यह प्ले उनके लिए हमेशा खास रहेगा. जी थिएटर की यह पेशकश इस पूरे महीने डिश टीवी और डी 2 एच रंगमंच एक्टिव पर उपलब्ध है. वीरेंद्र सक्सेना, समता सागर, इश्तियाक खान, सरोज शर्मा, नेहा सराफ, विक्रम कोचर और अनवेशी जैन भी इसमें अहम भूमिकाओं में हैं.