Delhi : सुशांत केस में फैला रहा था फर्जी खबरें, मुंबई पुलिस ने दिल्ली आकर पकड़ा

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स की गाइडलाइंस (Social Media Guidelines) का उल्लंघन करने के लिए विभोर (Vibhor Anand) का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 4:14 pm, Fri, 16 October 20
sushant singh rajput, disha salian, mumbai police
सुशांत, 14 जून को अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे.

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने दिल्ली के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. इस व्यक्ति पर सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में भ्रामक खबरें फैलाने का आरोप लगा है. पुलिस के अनुसार, इस व्यक्ति का नाम विभोर आनंद है, जो कि खुद को एक वकील बताता है. मुंबई पुलिस की एक टीम दिल्ली पहुंची, जहां पर विभोर को गिरफ्तार किया गया और उसे अब मुंबई ले जाया गया है. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स की गाइडलाइंस का उल्लंघन करने के लिए विभोर का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है.

पुलिस का कहना है कि विभोर ने सोशल मीडिया के जरिए कई सनसनीखेज और मानहानि के आरोप लगाए थे. इतना ही नहीं विभोर पर सुशांत सिंह राजपूत और उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत को लेकर फर्जी थ्योरी फैलाने का आरोप लगा है. उसने अपनी इन फर्जी खबरों के जरिए कई लोगों को निशाना बनाया था.

World Food Day: ऋतिक रोशन से लेकर दीपिका पादुकोण तक, जंक फूड के बिना नहीं रह सकते ये स्टार्स

सुशांत-दिशा की मौत की फर्जी खबरें फैलाने का आरोप

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस ने कहा कि आरोपी को इस मामले के सिलसिले में मुंबई लाया गया है. इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट सहित कई धाराओं के तहत आरोपी पर केस दर्ज किया गया है. पुलिस का कहना है कि आरोपी विभोर ने कई झूठे आरोप लगाए थे. आरोपी ने अपने ट्विटर के जरिए दावा किया था कि दिशा सालियान की मौत से पहले उसके साथ बलात्कार किया गया था. उसने इसके पीछे कई बड़ी हस्तियों का नाम लिया था.

बताते चलें कि दिशा सालियान की मौत 8 जून को मुंबई में एक आवासीय इमारत की 14वीं मंजिल से गिरकर मौत हो गई थी. वहीं इसके कुछ दिन बाद यानी 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत अपने बांद्रा स्थित अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे.

शूटिंग के लिए वापस गोवा पहुंची दीपिका पादुकोण, सिद्धांत-अनन्या के साथ शूट किए मजेदार सीन

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि मीडिया में एक फर्जी कहानी शुरू हुई कि मुंबई पुलिस ने एक बुरा काम किया. हमें बहुत अधिक दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा. हम हमेशा अपनी जांच के बारे में सुनिश्चित थे.

पिछले महीने मुंबई पुलिस ने एक मॉडल और यूट्यूबर को गिरफ्तार किया था, जो खुद को पत्रकार बताता था. सोशल मीडिया पर महिलाओं के खिलाफ अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने के लिए उसकी गिरफ्तारी हुई थी. इसके शख्त के यूट्यूब पर सुशांत को लेकर भी कई वीडियो पोस्ट किए गए थे.