सुशांत केस: ड्रग्स मामले में 3 आरोपियों की जमानत याचिका पर आज सुनवाई करेगा बॉम्बे हाई कोर्ट

मुंबई की एक विशेष अदालत ने पिछले हफ्ते अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) , उनके भाई शोविक, दीपेश सावंत, सैमुअल मिरांडा, अब्दुल बासित और ज़ैद विलात्रा की ज़मानत याचिका को खारिज कर दिया था.

बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत से संबंधित ड्रग्स मामले में गिरफ्तार अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के सहयोगी सैमुअल मार्शल मिरांडा सहित तीन लोगों की जमानत याचिका पर सुनवाई करने वाला है. जस्टिस सारंग कोतवाल की बेंच द्वारा राजपूत के निजी कर्मचारी दीपेश सावंत और कथित ड्रग पैडलर अब्दुल बासित परिहार की जमानत याचिकाओं पर लगभग 3 बजे सुनवाई करने की संभावना है.

मुंबई की एक विशेष अदालत ने पिछले हफ्ते अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) , उनके भाई शोविक, दीपेश सावंत, सैमुअल मिरांडा, अब्दुल बासित और ज़ैद विलात्रा की ज़मानत याचिका को खारिज कर दिया था. हालांकि, रिया और उसके भाई ने अभी तक हाई कोर्ट में जमानत याचिका दायर नहीं की है, पर अन्य तीन लोगों ने हाई कोर्ट में जमानत याचिका की.

ये भी पढ़ें- NCB की हिरासत में राहिल विश्राम, सुशांत केस से ऐसे है संबंध

ड्रग्स मामले में करीब 18 गिरफ्तार

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB), जिसने अभिनेता की मौत से संबंधित ड्रग्स मामले में आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उन्होंने विशेष अदालत में रिया, शोविक और दीपेश सावंत की जमानत याचिका का विरोध किया था. NCB के अनुसार, सावंत को सबूतों और बयानों के आधार पर ड्रग्स की खरीद और हैंडलिंग में उनकी भूमिका के लिए गिरफ्तार किया गया था.

एनसीबी ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से आधिकारिक कम्युनिकेशन हासिल करने के बाद एक जांच शुरू की थी, जिसमें सुशांत की मौत के संबंध में दवा की खपत, खरीद, उपयोग और परिवहन से संबंधित अलग-अलग चैट सामने आई थीं.

ये भी पढ़ें- मशहूर फैशन डिजाइनर शरबरी दत्ता का 63 साल की उम्र में निधन, घर के बाथरूम में मिला शव

ईडी ने 28 जुलाई को बिहार में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा एफआईआर दायर करने के बाद 31 जुलाई को दिवंगत अभिनेता की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग की संभावनाओं की जांच शुरू की थी. इसके बाद ही ड्रग्स का मामला सामने आया और केस एनसीबी ने अपने हाथों में लिया. एनसीबी ड्रग्स के मामले में अभी तक करीब 18 लोगों को गिरफ्तार कर चुका है. फिलहाल एजेंसी की जांच जारी है.

Related Posts