मुंबई की बादशाहत को यूपी लाएंगे सीएम योगी, बनाएंगे सबसे खूबसूरत फिल्मसिटी

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने एक तीर से सबको साध लिया है. वो तीर है उत्तर प्रदेश में सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी बनाने का फैसला

क्या बॉलीवुड में ड्रग्स की डर्टी पिक्चर को साफ करने में जुटी है यूपी सरकार ? क्या विवादों के तूफान से बॉलीवुड को आजाद कराने में जुटे हैं मुख्यमंत्री योगी ? क्या यूपी में फिल्म सिटी के जरिए खत्म करेंगे मुंबई की बादशाहत ?

इन सभी सवालों का जवाब हां है. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह की मौत से उठे सवाल हों या फिर बॉलीवुड में नेपोटिज्म का मामला रहा हो.फिल्मी दुनिया मे ड्रग्स विवाद हो या फिर कंगना को लेकर सियासी तूफान. इन सभी का जवाब देने की कोशिश की कड़ी में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने एक तीर से सबको साध लिया है. वो तीर है उत्तर प्रदेश में सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी बनाने का फैसला. इसकी कवायद में आज उन्होंने देश के जाने-माने कलाकारों, निर्माता निर्देशकों के साथ मंथन किया. सीएम की इस बैठक में सिर्फ यूपी से बॉलीवुड में पहचान बनाने वाले कलाकार ही नहीं बल्कि बाकी फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े कलाकार, निर्माता निर्देशक भी शामिल हुए.

इन बड़ी हस्तियों ने की शिरकत

सीएम के साथ हुई मीटिंग में लखनऊ पहुंचने वाले लोगों में निर्देशक शैलेश सिंह , लेखक, निर्माता विजयेंद्र प्रसाद, निर्देशक अशोक पण्डित, गायक कैलाश खेर, एक्टर मनोज जोश, निर्माता, निर्देशक नितिन देसाई , निर्माता विनोद बच्चन, निर्माता, निर्देशक पद्म कुमार, गायक उदित नारायण और भजन गायक अनपू जलोटा शामिल थे.

यह भी पढ़ें:ग्रेटर नोएडा में 1000 एकड़ भूमि पर बनेगी फिल्म सिटी, फिल्म यूनिवर्सिटी, टूरिस्ट स्पॉट समेत होगा बहुत कुछ

इसके अलावा 20 से ज्यादा लोगों ने वर्चुअल तरीके से इस मीटिंग में शिरकत की. इनमें अभिनेता रजनीकांत की बेटी सौंदर्या रजनीकांत, विवेक अग्निहोत्रि, अनुपम खेर, नीरज पाण्डेय, डेविड धवन, सुभाष घई, भूषण कुमार, चंद्र प्रकाश द्विवेदी, राज शांडिल्य, रवीना टंडन, परेश रावल, सतीश कौशिक, विशाल चतुर्वेदी, जॉन मैथ्यू मथान, प्रियदर्शन, मनोज मुंतसिर जैसी हस्तियां शामिल रहीं.

सीएम योगी के इस प्रस्ताव से सितारे न केवल सहमत नजर आए बल्कि उन्होंने सीएम योगी की इस पहल के लिए अपने ही अंदाज में बधाई भी दी उदित नारायण ने गाना गाकर सीएम को धन्यवाद दिया. सीएम आवास 5 कालीदास मार्ग पर हुई बैठक में ग्रेटरनोएडा, नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी के सीईओ मौजूद रहे जहां यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी के सीईओ अरुणवीर सिंह ने प्रेजेंटेशन दिया और उस जमीन से जुड़ा प्रस्ताव रखा गया जो एक्सप्रेस वे के किनारे यमुना प्राधिकरण इलाके में शामिल है. मुख्यमंत्री योगी ने साफ कर दिया है कि इसे बेस्ट डेडिकेटेड इंफोटेनमेंट जोन के तौर पर डेवलेप किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: लीलावती अस्पताल पर भड़कीं जरीन खान, कहा- जिन्हें हम कोरोना वॉरियर्स समझ रहे असल में…

कैसी होगी आपकी फिल्म सिटी

यमुना प्राधिकरण के क्षेत्र में आने सेक्टर 21 में 1000 एकड़ की जमीन पर फिल्म सिटी होगी. मथुरा से इसकी दूरी 60 किमी, आगरा से 100 किमी होगी. फिल्म सिटी में हाई कैपेसिटी, वर्ल्ड क्लास डाटा सेंटर की स्थापना होगी. इसे मेट्रो, रैपिड रेल सिस्टम के साथ ही हाई स्पीड ट्रेन सिस्टम से जोड़ा जाएगा. 35 एकड़ में फिल्म सिटी पार्क की स्थापना की जाएगी. 2060 की जरूरतों के लिहाज से इसे तैयार किया जाएगा.
सीएम के इस फैसले से बॉलीवुड की दिग्गज हस्तियां भी गदगद हैं.

इसके पहले यूपी में अखिलेश यादव की सरकार के समय 2015 में दो फिल्म सिटी के लिए करार किया गया था. वो भी फिल्म निर्माण नीति को जारी करते हुए. उसी दौरान फिल्म बंधु वेबसाइट का लोकार्पण किया गया था, हालांकि अखिलेश यादव की सरकार की 2017 में विदाई होते ही योजना खटाई में पड़ गई, जिसके बाद अब जाकर इसे लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी पहल की है.

Related Posts