कपड़ों पर कमेंट करने वाली आंटी को ये वीडियो देखकर मिलेगा सुकून

हाल ही में लॉन्च हुए एक वीडियो में आंटियों से रेप की वजहों पर बात कमेंट करने की बजाय रेप की सोच से लड़ने की बात कही गई है.

“लाल लिपस्टिक पहन के कितनी लाउड लग रही हो,
लाल लहंगा पहन लो कितनी बड़ी हो गई हो,
लड़कों के साथ इतना चिपक-चिपक के क्यों बात करती हो,
भाई साथ में है ना फालतू में क्यों डरती हो,
टॉप थोड़ा ऊपर करो, ब्रा स्ट्रैप्स दिख रहे हैं,
ऑफिस से इतना लेट आती हो, ना जाने किस-किसके साथ सोती हो,
और फिर रेप हो जाए, तो पूरे इंटरनेट पर रोती हो.”

ये वो समझाइश है जो हर लड़की को वक्त-बेवक्त मुफ्त में मिलती है. कहां से मिलती है? आपकी शुभचिन्तक आंटी हैं ना उन्हें सबकी फिकर है, वो सब जानती हैं, वही हैं जो आपको सलाह देती हैं, सलाह देने के चक्कर में ताने मार जाती हैं, आप पर भड़ास उतारती हैं फिर कहती हैं कि उनका इरादा नेक है.

इसी पर फोकस करते हुए ‘युवा’ नाम के यू-ट्यूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया गया है. ये वीडियो देश में बढ़ रहे रेप कल्चर, उससे जुड़ी डर और समझाइशों की बात कर रहा है.

इस वीडियो की खास बात ये है कि इसमें किसी को गलत बताने की बजाय मामले को सुलझाने की सोच रखी गई है. वीडियो शुरू होता है तो लगता है कि यंग लड़कियां सिर्फ आंटी पर दोषी ठहरा रही थीं, मगर धीरे-धीरे वीडियो में नया मोड़ आता है. लड़कियां आंटी के बीते कल की बात करती हैं. आंटियों ने भी ये सब खूब झेला है, उन्हें भी डीप नेक ब्लाउज पहनने पर जज किया जाता था.

आखिर में लड़कियां आंटी से एक-दूसरे पर की जा रही तानेबाजी से दूर होने की बात करती हैं. वो कहती हैं- अब बस हो गया, चलो और मैं एक बार बैठ कर बात करते हैं, ये रेप के कमेन्ट पे नही, इस रेप के कल्चर से ही लड़ते हैं.

जाहिर है कि हाल में ही दिल्ली की कुछ लडकियों का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक लड़की के छोटे कपड़े पहनने पर वहां मौजूद एक आंटी ने लड़की के रेप हो जाने की बात कही थी. इस वजह से आंटी को खूब ट्रोल किया गया था. ‘युवा’ का ये वीडियो उसी वीडियो का जवाब है.