दिशा सालियान ने मरने से पहले डायल किया था 100 नंबर, नितेश राणे का बड़ा खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. उनकी मौत को उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत से भी जोड़कर देखा जा रहा है. ऐसे में एक और बड़ा खुलासा हुआ है.
Disha Salian dialed 100 before her nitesh rane claims, दिशा सालियान ने मरने से पहले डायल किया था 100 नंबर, नितेश राणे का बड़ा खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. उनकी मौत को उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान (Disha Salian) की मौत से भी जोड़कर देखा जा रहा है. ऐसे में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. बीजेपी नेता नितेश राणा (Nitesh Rane) ने दावा किया है कि दिशा की जिस दिन मौत हुई, उसी दिन उसने मुंबई पुलिस को फोन किया था.

एएनआई से बात करते हुए नितेश राणे ने कहा, ‘अगर ये सुसाइड या एक्सीडेंटल डेथ होती तो दिशा सालियान मामले की जांच करने वाले ऑफिस को दो बार बदला क्यों गया? रोहन राय ने 9 जून को अंतिम संस्कार की योजना क्यों बनाई जबकि दिशा का पोस्टमार्टम 11 जून को किया गया था?’

“मामला आत्महत्या का नहीं लगता”

नितेश राणे (Nitesh Rane) ने ऐसे ही कुछ और सवाल भी पूछे. उन्होंने कहा, दुर्घटना में हुई मृत्यु थी तो उनके फोन का सीडीआर आखिरी कॉल 8 जून को रात8.30 बजे क्यों दिखा रहा है और ये क्यों दिखा रहा है कि उनका फोन 4 से 4.30 घंटों के लिए ऑफ था और फिर हादसे की रात किसी और ने उनका फोन इस्तेमाल किया. इन सभी चीजों से बड़े सवाल उठते हैं. ये मामला खुदकुशी का नहीं लगता.’

यह भी पढ़ें: सुशांत सिंह केस : इस वजह दिल्ली लौट आई है मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम

उन्होंने आगे कहा, ‘हमने ऐसा भी सुना है कि पार्टी की रात दिशा के साथ कुछ गलत हुआ था जिसके बाद वह अपने घर के लिए रवाना हो गईं थी. उन्होंने 100 नंबर पर फोन मिलाया था. उसने मुंबई पुलिस को पूरी जानकारी दी थी और मदद भी मांगी थी लेकिन इसके बावजूद पुलसि मदद नहीं कर सकी. इससे मुंबई पुलिस पर भी सवाल खड़े होते हैं. सीबीआई को मामले की जांच करनी चाहिए. अगर सीबीआई चाहे तो मैं उनकी मदद कर सकता हूं.’

रोहन की सुरक्षा मांगी थी

इससे पहले नितेश राणे ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखते हुए दिशा के बॉयफ्रेंड रोहन राय के लिए सुरक्षा मांगी थी. उन्होंने अपने पत्र में लिखा, ‘सीबीआई मामले की जांच कर रही है. दिशा और सुशांत की मौत कहीं न कहीं एक दूसरे से जुड़ी हुई है. रोहन रॉय का बयान इन दोनों की मौत के मामले में काफी अहम साबित हो सकता है.

ऐसे में उन्हें सुरक्षा दी जानी चाहिए.’ नितेश राणे ने चिट्ठी में लिखा, ‘सुशांत और उनकी पूर्व मैनेजर की मौत रहस्यमयी हालातों में हुई. हैरानी होती है ये जानकर कि दिशा के साथ रहने वाले रोहन रॉय के साथ अभी तक कोई पूछताछ नहीं हुई है. रोहन रॉय उस वक्त भी मौजूद थे जब दिशा बिल्डिंग से गिरी थीं. लेकिन फिर भी उन्होंने कहा कि वह 20-25 मिनट में नीचे घटना स्थल पर पहुंचे.’

यह भी पढ़ें: खत्म हुआ इंतजार… इस दिन आ रही है वरुण-सारा की Coolie No. 1

नितेश राणे ने अपने पत्र में लिखा था कि या तो वह मुंबई छोड़ कर चला गया है या उसे जाने के लिए किसी ने मजबूर किया है. उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह मुंबई आने से डरल रहे हैं. इसका कारण कुछ प्रभावशाली लोगों का दबाव हो सकता है.’ उन्होंने कहा, मैं आपसे निवेदन करता हूं कि रोहन को सुरक्षा दी जाए ताकी वह मुंबई आने पर सुरक्षित रहें. नितेश राणे पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सासंद नारायण राणे के बेटे हैं.

Related Posts