‘एक चुम्‍मा तू मुझको…’, 22 साल बाद गोविंदा और शिल्‍पा शेट्टी को हाईकोर्ट से मिली राहत

मोहिनी मोहन तिवारी ने अपनी याचिका में कहा था कि फिल्म का यह गाना बहुत ही वल्गर, आपत्तिजनक है और इसमें बिहार और यूपी का अपमान किया गया है.

मुंबई: साल 1996 में आई फिल्म छोटे सरकार का गाना एक चुम्मा तू मुझको उधार दई दे तो आप सभी तो याद होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह गाना पिछले 22 सालों से कानूनी पचड़े में फंसा हुआ था.

जब यह गाना आया था तब इसे अभद्र बताते हुए झारखंड की लॉअर कोर्ट में इसके खिलाफ याचिका दायर की गई थी. हालांकि कोर्ट ने अब इस याचिका को रद्द कर दिया है.

यह गाना बॉलीवुड के चर्चित चेहरे गोविंदा और शिल्पा शेट्टी पर फिल्माया गया था. 1997 में मोहिनी मोहन तिवारी नामक वकील ने गाने के खिलाफ कोर्ट में याचिका दायर की थी. मोहिनी मोहन तिवारी ने अपनी याचिका में कहा था कि फिल्म का यह गाना बहुत ही वल्गर, आपत्तिजनक है और इसमें बिहार और यूपी का अपमान किया गया है.

इस याचिका पर संज्ञान लेते हुए चीफ जस्टिस मजिस्ट्रेट ने गोविंदा और शिल्पा के खिलाफ धारा 294 और 500 के तहत नोटिस जारी किया था. हालांकि यह नोटिस कलाकारों के सही पते पर पहुंच नहीं पाया, जिसके कारण वे कोर्ट की सुनवाई से वंचित रहे. इसके बाद कोर्ट ने दोनों कलाकारों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया. गैर-जमानती वारंट जारी होने के बाद शिल्पा और गोविंदा को मामले की जानकारी मिली.

साल 2001 में दोनों हस्तियों ने हाई कोर्ट का रुख किया. मामले के 22 साल बाद गोविंदा और शिल्पा को राहत मिली है. जस्टिस अमिताभ गुप्ता ने मामले की सुनवाई करते हुए फैसला गोविंदा और शिल्पा के पक्ष में सुनाया.

जस्टिस ने फैसला सुनाते हुए कहा कि यह स्पष्ट होता है कि सामान्य नियम सितारों पर लागू नहीं होंगे, क्योंकि फिल्म को सेंसर बोर्ड द्वारा सिनेमैटॉग्राफी एक्ट 1952 के तहत मंजूरी दे दी गई थी. जस्टिस अमिताभ ने गोविंदा और शिल्पा को राहत देते हुए उनके खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया.

ये भी पढ़ें-   रिलीज कर तुरंत हटाया गया कंगना की फिल्म ‘धाकड़’ का टीज़र, जानें वजह

‘भिखारी है वीना मलिक, मलाला नॉनसेंस’, पाकिस्‍तानी औरतों पर भड़की बॉलीवुड एक्‍ट्रेस