‘नहीं चाहती मेरे कारण तुम लोगों के घर में चूल्हा जले’, मीडिया पर फिर भड़कीं कंगना

कंगना की बहन रंगोली ने अपने ट्विटर अकाउंट पर वीडियो शेयर किया है, जिसमें कंगना ने अपना बयान दिया और पत्रकारों के खिलाफ जमकर अपशब्द का इस्तेमाल किया.

मुंबई: फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के गाने ‘वखरा स्वैग’ के लॉन्च इवेंट पर अभिनेत्री कंगना रनौत और न्यूज़ एजेंसी पीटीआई जर्नलिस्ट जस्टिन राव के बीच आपस में हुई बहसबाजी के बाद एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड ऑफ इंडिया (EJGI) ने अभिनेत्री से माफी की मांग की थी.

इसके साथ ही EJGI ने अपना एक बयान जारी कर कहा था कि अगर वे माफी नहीं मांगती है तो उनके मीडिया की तरफ से कोई कवरेज नहीं मिलेगी. EJGI के इस बयान के बाद कंगना ने अपना एक बयान जारी किया है, जिसके जरिए उन्होंने मांफी मांगने से साफ इनकार कर दिया है और साथ ही जस्टिन राव को फिर से खूब खरीखोटी सुनाई है.

कंगना की बहन रंगोली ने अपने ट्विटर अकाउंट पर वीडियो शेयर किया है, जिसमें कंगना ने अपना बयान दिया. कंगना ने कहा, “आज मैं हमारी इंडियन मीडिया के बारे में आपसे कुछ कहना चाहती हूं. अच्छे लोगों के साथ कुछ बुरे लोग भी होते हैं और जो मीडिया है उसने जितना मुझे प्रोत्साहित किया, जितना मुझे प्रेरित किया, इतने अच्छे सलाहकार, अच्छे दोस्त, जो मुझे मीडिया में मिले हैं, कहीं न कहीं मेरी सफलता में उनका बहुत बड़ा हाथ है.”

“उनकी मैं हमेशा आभारी रहूंगी, लेकिन जो एक सेक्शन मीडिया का है, जो देश में दीमक की तरह लगा हुआ है और उसे धीरे-धीरे करके उसकी गरिमा, उसकी स्मिता, देश की अखंडता, एकता पर आए दिन हमला करता रहता है, ये झूठी अफवाहें फैलाता रहता है. अपने गंदे-भद्दे विचार खुलेआम सबके सामने रखते है, उनके लिए हमारे संविधान में किसी भी तरह की कोई पेनल्टी या सजा नहीं है. इससे मुझे बहुत ही ठेस पहुंची और मैंने फैसला किया है कि ये जो दोगली मीडिया है, बिकाऊ मीडिया है, जो खुद को लिबरल, सेक्यूलर कहती है… ये लोग कुछ भी नहीं है, ये दसवीं फेल भी नहीं हैं. ये लोग सूडो लिबरल है और बिल्कुल भी सेक्यूलर नहीं हैं. अगर ये सेक्यूलर होते तो हमेशा धार्मिक चीजों को लेकर देश की एकता पर प्रहार नहीं करते.”

इसके बाद जस्टिन राव पर हमला बोलते हुए कंगना ने कहा, “ऐसे ही एक चिंदी से पत्रकार से एक दो दिन पहले मैं एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मिली. उसी की तरह ऐसे कई लोग हैं, जो कि हमारे सीरियस मसलों को लेकर उनका मजाक उड़ाते हैं. इनके पास किसी भी तरह का तर्क-वितर्क, समीक्षा या विचार, जो कि एक पत्रकार का हक है, वे उस तरह से नहीं बल्कि गालीगलौच करके, गंदी बातें लिखकर, ये प्रोफेशनल्स ट्रोल्स मुफ्त का खाना खाने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंच जाते हैं. खुद को पत्रकार कहने का कोई तो क्राइटेरिया होना चाहिए.”

“मैंने उस इंसान के सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया, मैंने कहा कि एक एंटी-नेशनल को मैं क्यों एंटरटेन करूं. मेरे अंदर किसी भी देशविरोधी के लिए जीरो परसेंट टॉलरेंस है. इसके बाद तीन-चार लोगों ने मिलकर एक गिल्ड बनाई है, जो कि शायद कल ही बनी है, जिसकी कोई मान्यता नहीं है. उस गिल्ड के जरिए उन लोगों ने मुझे धमकी देना शुरू किया है कि मुझे बैन कर देंगं, मुझे कवर नहीं करेंगे. अरे नालायकों, देशद्रोहियों, बिकाऊ, तुम लोगों को खरीदने के लाखों भी नहीं चाहिए.”

इसके बाद पत्रकारों पर हमला बोलते हुए कंगना ने कहा, “तुम तो इतने सस्ते हो कि 50-60 रुपए में बिक जाते हो. तुम्हारे बाप-दादाओं को भी मैंने लोहे के चने चबवाए हैं. अगर तुम लोगों की चलती तो आज मैं टॉप और सबसे ज्यादा कमाने वाली अभिनेत्री नहीं होती. मैं तुमसे कहती हूं कि मुझे बैन करो, क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मेरे कारण तुम लोगों के घर में चूल्हा जले.”

 

ये भी पढ़ें-  पत्रकार से भिड़ने पर कंगना रनौत को EJGI ने कहा- माफी मांगो वरना मीडिया कवरेज होगा बंद

श्रद्धा कपूर करने जा रहीं इस शख्‍स से शादी, मां ने शुरू कर दीं तैयारियां