‘आंखों में तीली लगा के कोई नहीं दिखा रहा बिग बॉस’: शो के विरोध से भड़की महिला

शो की टीआरपी बढ़ाने के लिए मेकर्स नए तरीके निकाल रहे हैं, आलोचकों का कहना है कि ये अश्लीलता को बढ़ावा दे रहा है.

छोटे परदे के बड़े शो बिग बॉस पर हर बार की तरह इस बार भी कंट्रोवर्सी हावी हो गई है. इस बार मामला ज्यादा गंभीर हो गया है क्योंकि लोग प्रधानमंत्री से शिकायत कर रहे हैं, ट्विटर पर ट्रेंड करा रहे हैं कि बिग बॉस अश्लीलता परोस रहा है. इसे बंद किया जाए.

अतुल कुशवाहा नाम के एक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि बिग बॉस अश्लीलता और लव जिहाद को प्रमोट कर रहा है.

बिग बॉस पर लगते इन आरोपों के बीच कुछ लोग बचाव में भी आए. प्रज्ञा बरथ्वाल ने अतुल कुशवाहा को जवाब में लिखा कि ‘कोई आंखों में तीली लगवाकर किसी को नहीं दिखा रहा. मैंने बिग बॉस वन के बाद नहीं देखा, 6 साल में न्यूज के लिए खुलता है. 6 महीने से बंद है.’

बता दें कि शो की टीआरपी बढ़ाने के लिए मेकर्स नए जुगाड़ लगा रहे हैं. टाइमिंग खिसकाकर रात 10.30 बजे कर दी है ताकि और बोल्ड कॉन्टेंट दिखा सकें. लड़का और लड़की को एक ही बिस्तर शेयर कराना उसी की स्ट्रैटजी है. इसी वजह से शो का भारी पैमाने पर विरोध हो रहा है.