• Home  »  अभी अभी   »   पीएम मोदी की फिल्ममेकर्स से अपील- दिखाएं आजादी से पहले की कहानियां

पीएम मोदी की फिल्ममेकर्स से अपील- दिखाएं आजादी से पहले की कहानियां

मन की बात के दौरान पीएम मोदी ने सभी को याद दिलाया कि ”यदि आपके परिवार में दादा-दादी हैं, तो आपको उनसे उनके बचपन की कहानियों को सुनना चाहिए और उसे रिकॉर्ड करके रखना चाहिए. ये सारी चीजें आगे आपको बहुत काम देगी.”

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 4:54 pm, Sun, 27 September 20

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ( (PM Modi) ने रविवार ( 27 सितंबर, 2020 ) को ‘मन की बात’ (Man Ki Baat) कार्यक्रम में फिल्ममेकर्स और स्टोरी टेलर्स से अपील की, कि वे आजादी से पहले की प्रेरणादायक कहानियों को अपनी फिल्मों की कहानियों में शामिल करें. हमारा देश अगले साल आजादी के 75 साल मनाने वाला है. जिस वजह से पीएम मोदी चाहते हैं कि हमारी नयी पीढ़ी को आजादी से पहले की कहानियों से परिचित होना चाहिए.

प्रधानमंत्री ने ‘मन की बात’ के 69वें संस्करण के दौरान कहा, ‘मैं, कथा सुनाने वाले, सबसे आग्रह करूंगा कि हम, आजादी के 75 वर्ष मनाने जा रहें हैं, क्या हम हमारी कथाओं में पूरे गुलामी के कालखंड की जितनी प्रेरक घटनाएं हैं, उनको कथाओं में प्रचारित कर सकते हैं! विशेषकर, 1857 से 1947 तक, हर छोटी-मोटी घटना से अब हमारी नयी पीढ़ी को कथाओं के द्वारा परिचित करा सकते हैं.”

[ यह भी पढ़ें : क्या राजनीति में आएंगे सोनू सूद? ‘सिम्बा’ एक्टर ने दिया मजेदार जवाब ]

प्रधानमंत्री ने आगे कहा ”आप सभी को हर हफ्ते एक कहानी के लिए समय निकालना चाहिए. हर सदस्य के लिए सप्ताह का विषय चुनें जैसे करुणा, संवेदनशीलता, बहादुरी, प्रेम और वीरता. परिवार के हर सदस्य इस विषय से जुड़ी एक कहानी को खोजें और सभी एक साथ मिलकर इन्हें सुनें. इन कहानियों को एक साथ सुनने से आपके घर के बीच का प्यार और भी ज्यादा बढ़ जाएगा, हर कोई खुशी और ऊर्जा से भरा होगा.

बेंगलुरु स्टोरी टेलिंग सोसायटी के सदस्यों से पीएम ने की बात 

मन की बात के दौरान पीएम मोदी ने सभी को याद दिलाया कि ”यदि आपके परिवार में दादा-दादी हैं, तो आपको उनसे उनके बचपन की कहानियों को सुनना चाहिए और उसे रिकॉर्ड करके रखना चाहिए. ये सारी चीजें आगे आपको बहुत काम देगी.” इस दौरान पीएम मोदी ने बेंगलुरु स्टोरी टेलिंग सोसायटी के कुछ सदस्यों से भी बातचीत की. बेंगलुरु स्टोरी टेलिंग सोसायटी की अपर्णा आत्रेय ने पीएम को उनसे बात करने लिए धन्यवाद दिया. अपर्णा ने पीएम मोदी को बताया वो दो बच्चों की मां हैं, उनके पति भारतीय वायुसेना में अफसर हैं, कहानी सुनाना उन्हें बेहद पसंद है.

[ यह भी पढ़ें : अमिताभ-शिल्पा और कई हस्तियों ने मनाया Daughter’s Day, बेटियों के लिए शेयर की प्यारी पोस्ट ]

अपर्णा ने पीएम को आगे बताया ” मेरी स्टोरी टेलिंग 15 साल की उम्र से शुरू हुई, उस दौरान मैं सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री ने काम किया करती थी. कंपनी के CSR प्रोजेक्ट्स पर काम करते हुए, कहानियों के जरिए मुझे हजारों बच्चों को पढ़ाने का मौका मिला”

युवाओं के बीच स्टोरीटेलिंग का प्रचार प्रसार करना चाहते हैं पीएम 

टीम के सदस्यों में से एक ने राजा कृष्णदेव की एक कहानी भी बताई. जहां उन्होंने तेनाली रामा का भी जिक्र किया. इस दौरान पीएम ने कहा ”हमें सोचना होगा कि कैसे हम अपनी युवा पीड़ी से महान नेताओं, महान हस्तियों और हमारे देश की महिलाओं की रोमांचित कहानियों द्वारा कैसे जुड़ सकते हैं. हमें जानना होगा कैसे हम युवाओं के बीच स्टोरीटेलिंग का प्रचार-प्रसार कर सकते हैं ”

[ यह भी पढ़ें : हिमांशी खुराना हुईं कोरोना पॉजिटिव, क्या किसान आंदोलन में शामिल होना है वजह ]