Sushant Death : फोटो देखकर गला घोंटने का अंदाजा मत लगाओ, मेडिकल बोर्ड बनाओ – रिया के वकील

रिया (Rhea Chakraborty) के वकील का यह बयान ऐसे समय पर सामने आया है, जब सुशांत (Sushant Singh Rajput) के परिवार के वकील विकास सिंह ने एम्स के एक डॉक्टर का हवाला देते हुए कहा था कि सुशांत की गला घोंटकर हत्या की गई है.

rhea chakraborty, drugs case, sushant singh rajput

शुक्रवार को सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह (Vikas Singh) ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, जिसमें उन्होंने दावा किया कि एम्स की टीम के एक डॉक्टर ने बताया कि सुशांत की गला घोंटकर हत्या की गई है. विकास सिंह के इस दावे के बाद अब रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के वकील सतीश मानशिंदे (Satish Manshinde) ने निष्पक्ष जांच के लिए नया मेडिकल बोर्ड गठित करने की मांग की है.

सतीश मानशिंदे ने कहा कि सुशांत मामले में डॉ. गुप्ता के नेतृत्व वाली टीम में एम्स के एक डॉक्टर द्वारा 200 प्रतिशत निष्कर्ष का खुलासा, तस्वीरों के आधार पर एक खतरनाक प्रवृत्ति है. जांच को निष्पक्ष और किसी भी तरह के दखल से मुक्त रखने के लिए केंद्रीय जांच एजेंसी को एक नया मेडिकल बोर्ड गठित करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- रकुलप्रीत सिंह ने अपने पास रखे थे रिया चक्रवर्ती के ड्रग्स, जा सकती हैं जेल

एजेंसियों पर दबाव डाला जा रहा

इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि बिहार चुनाव के कारण पूर्व निर्धारित परिणाम तक पहुंचने के लिए एजेंसियों पर दबाव डाला जा रहा है. हमने डीजी पांडे (गुप्तेश्वर पांडे) के वीआरएस को कुछ दिन पहले ही देखा है. ऐसे कदमों की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए.

सुशांत के परिवार के वकील के आरोप

दरअसल, वकील विकास ने एम्स के डॉक्टर का नाम लिए बिना कहा था कि उन्होंने साफ कर दिया है कि सुशांत को मारा गया है. लेकिन सीबीआई ने अभी तक इस मामले की जांच को उस तरह से नहीं किया है, जिसके लिए एजेंसी को जाना जाता है. सीबीआई का ये केस अब एनसीबी के आने के बाद बॉलीवुड में ड्रग्स का केस बन गया है. सितारों की परेड हो रही है लेकिन ये अभी तक साफ नहीं है कि सुशांत की मौत की जांच कहां तक पहुंची है.

ये भी पढ़ें- ड्रग्स लिंक ने डाला दीपिका-श्रद्धा-सारा की इमेज पर असर, टीवी पर विज्ञापन आना बंद!

उन्होंने यह भी कहा था कि सीबीआई ने अभी तक कोई प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस केस की जांच के बारे में कोई खुलासा नहीं किया है. सीबीआई को दिल्ली में एम्स की टीम के साथ मीटिंग करनी थी, लेकिन एजेंसी ने अभी तक ये मीटिंग भी नहीं की है. जो इस बात का साफ संकेत है कि सीबीआई अब मुंबई पुलिस की तरह की केस को लटका रही है. रिया चक्रवर्ती को सुशांत की मौत के लिए जिम्मेदार बताने के बजाय उसे ड्रग्स के केस में जेल में भेज दिया गया..

Related Posts