कभी ‘महाभारत’ में निभाया था इंद्र देव का रोल, अब ये एक्टर दवाइयों के लिए भी कर रहा संघर्ष

कौल (Satish Kaul) करीब 300 पंजाबी और हिंदी फिल्मों में काम कर चुके हैं, जिनमें 'प्यार तो होना ही था' और 'आंटी नंबर 1' भी शामिल हैं. इसके अलावा उन्होंने 'विक्रम बैताल' में भी काम किया है.
satish kaul struggle for basic needs, कभी ‘महाभारत’ में निभाया था इंद्र देव का रोल, अब ये एक्टर दवाइयों के लिए भी कर रहा संघर्ष

‘महाभारत’ (Mahabharat) जैसे कई टीवी सीरियल्स और फिल्मों में काम कर चुके जाने माने अभिनेता सतीश कौल लॉकडाउन के कारण इन दिनों का आर्थिक परेशानी से जूझ रहे हैं. सतीश कौल (Satish Kaul) ने ‘महाभारत’ में देव इंद्र का रोल निभाया था. वे करीब 300 पंजाबी और हिंदी फिल्मों में काम कर चुके हैं, जिनमें ‘प्यार तो होना ही था’ और ‘आंटी नंबर 1’ भी शामिल हैं. इसके अलावा उन्होंने ‘विक्रम बैताल’ में भी काम किया है.

बीच में खबरें आई थीं कि सतीश एक वृद्धाश्रम में रह रहे हैं, लेकिन इन खबरों को उन्होंने खारिज किया है. पीटीआई से बात करते हुए सतीश कौल ने कहा, “मैं लुधियाना में एक छोटे से किराए के मकान में रहता हूं. मैं पहले वृद्धाश्रम में रहता था, लेकिन उसके बाद में यहां रहने लगा. मेरा स्वास्थ्य ठीक है, लेकिन लॉकडाउन के कारण स्थिति काफी खराब हो गई है.”

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कौल ने कहा, “मुझे दवाइयों, ग्रॉसरी और अन्य जरूरी चीजों के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. मैं इंडस्ट्री से अपील करता हूं कि मेरी मदद करें. एक एक्टर के तौर पर मुझे बहुत प्यार मिला. मुझे अब मानवता की जरूरत है.”

साल 2011 में सतीश मुंबई से पंजाब आ गए थे, जहां उन्होंने एक्टिंग स्कूल शुरू किया, लेकिन वे इस काम में कामयाबी हासिल नहीं कर सके. उन्होंने कहा कि साल 2015 में उनके हिप बोन में फ्रैक्चर हो गया था. ढाई साल तक वो अस्पताल के बिस्तर पर ही थे. इसके बाद वे वृद्धाश्रम में रहे, जहां उन्होंने दो साल बिताए.

सतीश कौल का कहना है कि उन्होंने इससे फर्क नहीं पड़ता कि जो लोग उन्हें पहले एक्टर के तौर पर प्यार करते थे, वे अब उन्हें भूल चुके हैं. उनका कहना है कि मुझे बहुत प्यार मिला है, जिसका मैं आभारी हूं.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts