‘थप्पड़’ के आलोचकों को अनुभव सिन्हा ने दी गालियां, बाद में मांगी माफी

फिल्म 'थप्पड़' को क्रिटिक्स ने बहुत सराहा लेकिन ये फिल्म दर्शकों को सिनेमाघरों में खिंचकर लाने में नाकामयाब साबित हुई. ट्रोलर्स ने जब फिल्म के बारे में भला बुरा कहा, तो अनुभव सिन्हा अपना आपा खो बैठे और ट्विटर पर ही ट्रोलर्स को गालियां देने लगे.
thappad director anubhav sinha abuses trollers, ‘थप्पड़’ के आलोचकों को अनुभव सिन्हा ने दी गालियां, बाद में मांगी माफी

फिल्म ‘थप्पड़’ के निर्देशक अनुभव सिन्हा ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ ऐसा लिख डाला कि सभी की आंखे फटी की फटी रह गई. दरअसल, घरेलू हिंसा पर आधारित फिल्म ‘थप्पड़’ को भले ही  क्रिटिक्स ने बहुत सराहा हो, लेकिन ये फिल्म दर्शकों को सिनेमाघरों में खिंचकर लाने में नाकामयाब साबित हुई. फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन को देखते हुए जब ट्रोलर्स ने ट्विवर पर फिल्म के बारे में भला बुरा कहा, तो अनुभव सिन्हा अपना आपा खो बैठे और ट्विटर पर ही ट्रोलर्स को गालियां देने लगे.

फिल्म की आलोचना करने वालों को अपशब्द लिखते हुए अनुभव सिन्हा ने कहा, ‘उन्हें लगता है कि एक पुरुषवादी फिल्म ही पैसा, शोहरत और प्यार कमा सकती है, लेकिन मुल्क, आर्टिकल 15 और थप्पड़ जैसी फिल्मों ने उन्हें बहुत डरा दिया है और उनकी इस सोच को भी तोड़ दिया है.’ इसके साथ ही ‘थप्पड़’ को असफल फिल्म कहने वालों पर भी अनुभव जमकर बरसे.

लेकिन कुछ ही देर बाद अनुभव ने ट्वीट में लिखे अपशब्दों को लेकर माफी मांगी और लिखा- मैं अपनी भाषा के लिए सभी महिलाओं से माफी मांगता हूं. ये उन 150 लोगों का प्यार है जिसके कारण इस फिल्म का अनादर करने वालों पर मैं भड़क गया और शायद कुछ ज्यादा ही कह गया. मैं सभी महिलाओं, छोटों और बड़ों से इसके लिए माफी मांगता हूं.’

आपको बता दें कि अनुभव सिन्हा इससे पहले ‘मुल्क’ और ‘आर्टीकल 15’ जैसी बहतरीन फिल्मों भी डायरेक्ट कर चुके हैं.

Related Posts