‘जायरा वसीम ने डिप्रेशन के चलते लिया एक्टिंग छोड़ने का फैसला’

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील और राज्यसभा सांसद रह चुके केटीएस तुलसी ने कही ये बात.

दंगल और सीक्रेट सुपरस्टार फ़ेम एक्ट्रेस ज़ायरा वसीम के धर्म को आधार बनाकर एक्टिंग छोड़ने का फैसला तूल पकड़ता जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ वकील और राज्यसभा सांसद रहे केटीएस तुलसी ने अब इस मसले को ज्यादा तूल न देने की सलाह दी है. केटीएस तुलसी ने कहा कि ‘मुझे लगता है वो डिप्रेशन में हैं और इस हालत में जो भी कहा जा रहा है उस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए.’

जायरा वसीम ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर पोस्ट लिखकर इस बात की जानकारी दी थी कि वो एक्टिंग छोड़ रही हैं. पांच साल पहले फिल्म इंडस्ट्री में आने का उनका फैसला गलत था और उन्हें अल्लाह के रास्ते से दूर ले जा रहा था.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Zaira Wasim (@zairawasim_) on

शिवसेना और बीजेपी ने जायरा के इस फैसले को दबाव में लिया गया फैसला बताया है. कांग्रेस छोड़कर शिवसेना में शामिल हुई प्रियंका चतुर्वेदी ने भी इस फैसले पर प्रतिक्रिया दी. ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘अगर आपकी आस्था आपको आकर्षित कर रही है तो आप उसका पालन कर सकते हैं लेकिन धर्म को आधार बनाकर अपने करियर का फैसला न करें. ये आपके धर्म को असहिष्णु दिखाता है जबकि असल में ऐसा नहीं है. यह इस गलत धारणा को बल देता है कि इस्लाम में सहिष्णुता की जगह नहीं है.’

बता दें कि कश्मीर की जायरा वसीम का विरोध पहले भी इस्लामिक कट्टरपंथियों द्वारा किया जा चुका है. नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने जायरा वसीम के फैसले का सम्मान करने की सलाह दी है.

ये भी पढ़ें:

“टैलेंट बुर्के के अंधेरे में जाने को मजबूर है”, जायरा के फैसले पर आ रहे ऐसे कमेंट

‘The Sky Is Pink’ में आखिरी बार नजर आएंगी जायरा वसीम, अल्लाह के लिए बॉलीवुड को कहा अलविदा