RBI की तरफ से जारी किया गया 1000 रुपये का नोट? जानें क्या है सच…

इस नोट पर RBI गवर्नर की जगह महात्मा गांधी के सिग्नेचर हैं और साल 2017 भी लिखा हुआ है.

इन दिनों सोशल मीडिया पर 1000 रुपये के नोट को लेकर एक खबर वायरल हो रही है. दावा किया जा रहा है कि जनवरी, 2020 में भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से 1000 रुपये का नोट जारी किया जाएगा. इस अफवाह को फेसबुक और वाट्सएप पर तेजी से शेयर किया जा रहा है.

फरवरी, 2017 में तत्कालीन RBI गवर्नर शक्तिकांत दास के समय भी 1000 रुपये को लेकर ऐसी सी अफवाह उड़ी थी. जिस पर RBI गवर्नर ने ट्वीट कर ये बात साफ की कि इस तरह की कोई योजना नहीं है.

अब इस अफवाह एक बार फिर से टूल पकड़ लिया है. कई सारे लोग 1000 रुपये का नोट जारी किए जाने की खबर को वाट्सएप स्टेटस पर लगा रहे हैं.

ये खबर सरासर झूठी है

सोशल मीडिया पर वायरल 1000 रुपये का नोट फर्जी है. RBI की ऑफिसियल वेबसाइट पर इस तरह का कोई नोटिफिकेशन नहीं है. अगर ऐसा सच में होता तो इसे ऑफिसियली घोषित किया जाता.

RBI के एक प्रवक्ता ने लोगों को सचेत करते हुए कहा है, ‘इस तरह की अफवाह पर यकीन न करें. RBI की वेबसाइट पर सारी जानकारी उपलब्ध होती है, किसी भी बात की तसल्ली वहीं से करें. 1000 रुपये के नोट से जुड़ी वायरल खबर झूठी है.’

Thousand Rupees Note, RBI की तरफ से जारी किया गया 1000 रुपये का नोट? जानें क्या है सच…

सिर्फ यही नहीं 1000 रुपये के नोट की वायरल फोटो को अगर गौर से देखा जाए तो इसपर ‘Artistic Imagination’ लिखा हुआ है, यानी ये बस अंदाजन है. वहीं इस नोट पर RBI गवर्नर की जगह महात्मा गांधी के सिग्नेचर हैं. इसके अलावा नोट पर साल 2017 भी लिखा हुआ है.

कुल मिलाकर सोशल मीडिया पर 1000 रुपये के नोट की जो तस्वीर वायरल है वो नकली है. असल में बैंक ऐसा कोई नोट जारी नहीं कर रहा है.