सूखे से त्रस्त गांव में टैंकर लेकर पहुंचे रणदीप हुड्डा, सरकार से की ये मांग

देश गर्मी और सूखे की मार झेल रहा है. कई इलाके ऐसे हैं जहां पीने का पानी नहीं मिल रहा. ऐसे ही एक गांव में पहुंचे रणदीप हुड्डा.

देश का 40 फीसदी हिस्सा सूखे की चपेट में है. बढ़ती गर्मी इस जख्म को और कुरेद रही है. कुएं तालाब सब सूखे हुए हैं. प्यास से मवेशी मर रहे हैं. लोगों को पीने का पानी नहीं मिल रहा है. शहरों में, खास तौर से समर्थ लोगों के पास पानी की उतनी किल्लत नहीं है. कुछ ही दिन पहले विराट कोहली पर 500 रुपए का जुर्माना लगा था क्योंकि उनका ड्राइवर पीने वाले पानी से कार धो रहा था. गांवों में स्थिति बदतर होती जा रही है. इस सबके बीच ‘खालसा एड’ लोगों को राहत बांटने में सराहनीय काम कर रही है. महाराष्ट्र में नासिक के पास इसी मुहिम के तहत एक गांव में पानी का टैंकर लेकर जा पहुंचे और लोगों की प्यास बुझाई.

वीडियो ट्वीट करते हुए हुड्डा ने लिखा कि पूरे देश में पानी की किल्लत है. महाराष्ट्र के नासिक में वेले गांव में हूं. खालसा एड के साथ हम अपना योगदान कर रहे हैं. वीडियो में उन्होंने कहा-

मैं नासिक से 37 किलोमीटर दूर वेले गांव में हूं जो मुंबई से करीब डेढ़ सौ किलोमीटर दूर है. यहां पीने के पानी की कमी है. लोग प्यासे मर रहे हैं. गर्मी से. क्योंकि हर साल गर्मी में यहां पानी बिल्कुल खतम हो जाता है. यहां पर बहुत सारे बांध हैं लेकिन आदिवासियों को उनसे पानी नहीं मिलता. वो सारा पानी शहरों में जा रहा है. मैं गवर्नमेंट से रिक्वेस्ट करूंगा कि वो लोगों की मदद करें. मैं यहां खालसा एड के साथ आया हूं. ये लोग 12-13 गावों में 25 से 30 टैंकर पानी रोज पहुंचाते हैं. मैं इनका शुक्रगुजार हूं कि वो देश के लोगों की इतनी मदद कर रहे हैं.

रणदीप हुड्डा के इस वीडियो पर लोग जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं और दिल खोलकर तारीफ कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

‘मोदी है तो मुमकिन है’ जब अमेरिकी विदेश मंत्री ने की पीएम की तारीफ

सुबह 9.30 बजे तक ऑफिस पहुंच जाइए” पीएम मोदी की मंत्रियों को नसीहत

‘मेरे एक फोन पर मोदी ने टैक्‍स घटा दिया’, फिर भी पीएम से खफा हैं डोनाल्‍ड ट्रंप