दलित युवक की लाठी डंडों से पिटाई, मेवाणी ने दी ‘गुजरात बंद’ की चेतावनी

‘अगर इस हमले में शामिल सभी आरोपियों को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार नहीं किया जाता तो अहमदबाद में दलित कार्यकर्ता बंद का आह्वन करेंगे.’
Dalit youth stripped, दलित युवक की लाठी डंडों से पिटाई, मेवाणी ने दी ‘गुजरात बंद’ की चेतावनी

गुजरात के अहमदाबाद में भीड़ ने दो दलित युवक की लाठी-डंडों से पिटाई की है. यह घटना रविवार की बताई जा रही है. साबरमती टोल नाका इलाके में किसी मामूली विवाद के बाद भीड़ ने इस युवक की बेरहमी से पिटाई की है. इस दौरान कथित तौर पर युवक के कपड़े भी उतार दिए गए थे.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना का एक वीडियो सोमवार को वायरल हुआ. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक युवक के कपड़े उतारकर उसकी डंडों से पिटाई हो रही है.
इस घटना के बाद युवक को गंभीर हालत में अहमदाबाद सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है.

पुलिस के मुताबिक, यह घटना रविवार रात लगभग 7:30 बजे की है. दरअसल प्रगनेश परमार और जयेश नाम के दो दलित युवक अहमदाबाद टोल इलाके के एक ढाबे में पहुंचे.

साबरमती पुलिस थाने के प्रभारी आरएच वाल के मुताबिक, ‘ढाबे के मालिक और प्रगनेश के बीच किसी बात पर विवाद हुआ, जिसके बाद ढाबा मालिक ने कुछ लोगों के साथ मिलकर दोनों युवाओं को डंडे से मारना शुरू कर दिया.’

उन्होंने बताया, ‘भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारक) अधिनियम की धारा के तहत दो लोगों महेश ठाकोर और शंकर ठाकोर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. हमने ढाबे के मालिक महेश को गिरफ्तार कर लिया है और दूसरे आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.’

इस घटना पर संज्ञान लेते हुए वडगाम से विधायक जिग्नेश मेवाणी ने कहा, ‘अगर इस हमले में शामिल सभी आरोपियों को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार नहीं किया जाता तो अहमदबाद में दलित कार्यकर्ता बंद का आह्वन करेंगे.’

मेवाणी ने कहा, ‘हम गुजरात में मॉब लिंचिंग की संस्कृति को पनपने नहीं देंगे. बीते छह महीनों में राज्य में 12 से 13 दलितों की हत्या हुई है और न ही राज्य के गृहमंत्री और न ही पुलिस महानिदेशक ने इन घटनाओं की निंदा की है. अगर 24 घंटों के भीतर अपराधियों को नहीं पकड़ा जाता तो हम अहमदाबाद में बंद बुलाएंगे.’

Related Posts