काबिलियत साबित करने को घर से भागा करोड़पति मां-बाप का बेटा, शिमला में प्‍लेट्स धोता मिला

लड़के का पढ़ाई में मन नहीं लगता था मगर वह अपने मां-बाप को दिखाना चाहता था कि उसमें काबिलियत है.

गुजरात के एक करोड़पति तेल व्‍यापारी का बेटा पिछले महीने अचानक लापता हो गया. पुलिस को ख़बर दी गई तो उन्‍हें सिर्फ CCTV फुटेज मिली जिसमें वह वडोदरा रेलवे स्‍टेशन पर दिखा. इसके बाद पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला. जांच लगभग ठप पड़ चुकी थी कि शिमला के होटल से फोन आया. वो लड़का वहां पर प्‍लेट्स धो रहा था. पुलिस ने शक्‍लें मिलाईं तो केस सॉल्‍व हो गया.

14 अक्‍टूबर को 19 साल का द्वारकेश ठक्‍कर अपने इंजीनियरिंग कॉलेज जाने के लिए घर से निकला था. उसके पिता वडोदरा के पद्रा कस्‍बे में ऑयल ट्रेडिंग करते हैं. परिवार को नहीं लगा था कि कुछ गड़बड़ है. जब द्वारकेश नहीं लौटा तो पुलिस को खबर की गई. उन्‍हें रेलवे स्‍टेशन की CCTV फुटेज में द्वारकेश दिखा. एक ऑटो-रिक्‍शा ड्राइवर भी जिसने द्वारकेश को वहां छोड़ा था.

पुलिस के पास अब कोई और सुराग नहीं था. फिर एक दिन पुलिस को शिमला के एक होटल मैनेजर का फोन आया. एक लड़का उनके होटल में बर्तन धो रहा था. उसके आइडेंडिटी कार्ड पर पद्रा का पता देख मैनेजर ने बैकग्राउंड चेक के लिए पद्रा पुलिस थाने में फोन मिलाया था.

मैनेजर ने पुलिस को द्वारकेश की फोटो भेजी. पुलिस ने वेरिफाई किया और शिमला में छुट्टियां बिता रहे दो साथ पुलिसवालों को ख़बर की गई. वे होटल पहुंचे तो उन्‍हें वहां द्वारकेश नहीं मिला.

सोमवार को एक टैक्सी ड्राइवर ने पुलिस को फोन किया कि लड़का सड़क किनारे सो रहा है. पुलिस मौके पर पहुंची और उसे ढूंढ लिया. परिवार को ख़बर की गई. वे फ्लाइट से शिमला पहुंचे और द्वारकेश को घर ले गए.

पुलिस ने बताया कि द्वारकेश का पढ़ाई में मन नहीं लगता था मगर वह अपने मां-बाप को दिखाना चाहता था कि उसमें काबिलियत है. वह घर से भागकर शिमला चला गया और वहां एक होटल में नौकरी मांगी.

ये भी पढ़ें

गुजरात: बाथरूम में निकला चार फुट लंबा मगरमच्छ, पकड़ने में रेस्क्यू टीम को लगा एक घंटा

प्रेमी के साथ पत्नी ने बनाया पति को मारने का प्लान, किस्मत ने दिया धोखा, जानें…