Yoga Tips : रीढ़ की हड्डी को मजबूत और लचीला बनाए रखने के लिए ट्राई करें ये योगासन

धनुरासन (Dhanurasan) करने से आपके पीठ दर्द की शिकायत दूर हो जाएगी. इसके लिए आप उल्टा लेट जाएं और अपनी ठुड्डी को नीचे टीका दें. फिर दोनों पैरों को मिलाएं और सीधे रहें.

yoga
योगा

आज देश में योगा का महत्वता बढ़ गया है. ज्यादातर लोग खुद को फिट रखने के लिए योग कर रहे हैं. योग से हमारी रीढ़ की हड्डियों को मजबूत बनाता है. हम में से ज्यादातर लोग अक्सर कमर दर्द, पीठ दर्द की समस्याओं से जूझ रहे होते हैं. इसका सबसे बड़ा कारण है सही पॉश्चर के साथ नहीं बैठना- उठना हैं. जिस कारण हमारा शरीर कई समय तक एक की पॉश्चर में बैठकर अकड़ जाता है.अगर आप भी इन सभी समस्याओं से परेशान हैं तो हम आपको कुछ आसान योगसन बता रहे हैं जिसे अपनाकर आप जल्द ठीक हो सकते है.

शलभासन

शलभासन

इस आसन को करने से आपकी मांसपेशिया मजबूत होती हैं. यह आसान बहुत आसान है इसे कोई भी कर सकता है. आपके पेट के बल लेट जाना है और अपनी ठुड्डी को नीचे चटाई पर रखें और हथेली अपनी थाई के नीचे रखें. सांस लेते वक्त हथेलियों और पैर को उठाएं. आपको तब तक स्ट्रेच करना है जब तक आप अपने पीठ पर जोर महसूस न करें. 10 बार इस सांस लेने तक इस आसन को करे. अगर आपको हर्निया, अल्सर और हृदय संबंधी बीमारी हैं तो आसन को न करें.

ऊर्ध्व मुख श्वानासन

इस आसन को करने सेआपकी छाती, लंग्स और रीढ़ की मांसपेशियों को मजबूती मिलेगी. अपने पेट के बल लेट जाएं और अपकी हथेलियां जमीन पर होनी चाहिए. पैरों के बल पर बॉडी को स्ट्रेच करें और सामने देखें. आप अपनी बॉडी को उतना ही स्ट्रेच करें जितनी क्षमता हो. दस बार सांस लेने तक इसी आसन में रहें.

धनुरासन

Dhanursana
घनुरासन

धनुरासन करने से आपके पीठ दर्द की शिकायत दूर हो जाएगी. इसके लिए आप उल्टा लेट जाएं और अपनी ठुड्डी को नीचे टीका दें. फिर दोनों पैरों को मिलाएं और सीधे रहें. इसके बाद अपने पैरों को मोड़ते हुए पीछे लाएं और अपने हाथों से एंकल को पकड़ने की कोशिश करें. फिर अपने दोनों पैरों  को खींचे जिसका आपका बॉडी उठेगी और सारा वेट आपके पेट पर आ जाएगा. इस आसान को करीब 10 बार करें. हर्निया, अल्सर और हृदय की बीमारी वाले लोग न  करें.

Related Posts