‘मंगल पर भी फंसे तो मदद करेंगे’, वो 10 किस्‍से जब बस एक ट्वीट पर सुषमा स्वराज बन गईं ‘संकटमोचक’

सुषमा स्वराज ने जिस तरह से तमाम मौकों पर विदेशों में मुसीबत में फंसे लोगों की हर मुमकिन मदद की, उसे भुलाया नहीं जा सकता.

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी की तेज-तर्रार नेता सुषमा स्वराज आज हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन भारत की विदेश मंत्री के तौर पर किया गया उनका बेहतरीन काम हमेशा याद किया जाएगा. स्वराज ने जिस तरह से तमाम मौकों पर विदेशों में मुसीबत में फंसे लोगों की हर मुमकिन मदद की, उसे भुलाया नहीं जा सकता. स्वराज ने मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्रालय की छवि बदलकर रख दी.

सुषमा स्वराज ने एक बार एक ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए लिखा था कि अगर आप मंगल ग्रह पर भी फंस गए तो वहां भी भारतीय दूतावास आपकी मदद कर देगा. उनका यह ट्वीट काफी वायरल हुआ था. इन 10 मौकों पर सुषमा स्वराज बन गई थीं ‘संकटमोचक’…

1. विदेश मंत्री के तौर पर सुषमा स्वराज ने ‘यमन संकट’ के दौरान गजब का काम किया था. स्वराज ने यमन में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए चलाए गए ‘ऑपरेशन राहत’ की शानदार अगुवाई की थी. इस दौरान 4,741 भारतीय नागरिकों और 48 देशों के 1,947 लोगों को बचाया गया था.

2. सुषमा स्वराज ने युद्धग्रस्त इराक में फंसे 168 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला था. इसके लिए उन्होंने ट्विटर पर मौजूद सिर्फ एक वीडियो पर एक्शन लिया था, जिसमें उन्हें टैग किया गया था. इसकी खूब प्रशंसा हुई थी.


3. स्वराज ने यमन संकट के दौरान तुरंत एक यमनी महिला सबा शॉवेश के ट्वीट का जवाब दिया, जो अपने आठ महीने के भारतीय बच्चे के साथ वहां फंसी हुई थी. स्वराज ने उसकी मदद भी सुनिश्चित की.

4. प्रांशू सिंघल नाम के एक शख्स ने सुषमा को टैग करते हुए एक ट्वीट किया कि ‘दोहा एयरपोर्ट पर फंसे उनके भाई को बचा लें.’ सुषमा ने उन्हें बचाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी और बचा भी लिया.


5. स्वराज ने उस भारतीय लड़की को भी बचाया, जो बिना पासपोर्ट और पैसे के जर्मनी में फंसी हुई थी.


6. वो वाकया भी नहीं भूला जा सकता जब पांच साल की एक पाकिस्तानी लड़की को लीवर ट्रांसप्लांट की जरूरत थी. ऐसे में स्वराज ने उसकी मदद करके इंसानियत की मिसाल कायम कर दी.

7. सऊदी अरब में घरेलू सहायिका के तौर पर काम करने वाली एक भारतीय महिला का हाथ उसके मालिक ने काट दिया था. सुषमा ने इस मामले पर कड़ा विरोध जताया था. उन्होंने सऊदी अरब से आरोपी के खिलाफ कड़ी सजा की मांग की थी.

8. भारतीय से शादी करने वाली एक यमनी महिला ने अपने 8 माह के बच्चे की फोटो ट्वीट करके उन्हें वहां से निकालने की गुहार लगाई थी. इस पर स्वराज ने तुरंत मदद का हाथ बढ़ाया था.


9. पाकिस्तान की महिला नीलिमा गफ्फार के पति ने सुषमा स्वराज से अपनी बीमार पत्नी को भारत में इलाज के लिए वीजा को मंजूरी देने की गुजारिश की थी. इस पर सुषमा ने ट्विटर पर उसके वीजा के मंजूर हो जाने की जानकारी दी थी.

10. कुछ समय पहले गीता नाम की एक भारतीय लड़की की खबर मीडिया में खूब आई थी, गीता सुनने और बोलने में असमर्थ थी. वो पाकिस्तान में फंसी हुई थी. इस पर स्वराज ने उसे भारत वापस लाने और उसे उसके परिजनों को सौंपने का प्रयास शुरू किया.

ये भी पढ़ें-

LIVE: सुषमा स्वराज का पार्थिव शरीर AIIMS से घर ले जाया गया, दोपहर 3 बजे होगा अंतिम संस्कार

सुषमा स्वराज के निधन पर दुनिया भर के नेताओं ने भेजे भावुक संदेश

सुषमा स्‍वराज ने जब UN में लगाई थी दहाड़, पूरी दुनिया के आगे बेनक़ाब हो गया था पाकिस्‍तान