1993 मुंबई बम धमाकों के दोषी अब्दुल गनी की नागपुर में हुई मौत

जानकारों की मानें तो 1993 में हुए सीरियल ब्लास्ट में अब्दुल गनी ने सेंचुरी बाजार में बम रखा था.
अब्दुल गनी, 1993 मुंबई बम धमाकों के दोषी अब्दुल गनी की नागपुर में हुई मौत

मुंबई: साल 1993 में महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में हुए सीरियल ब्लास्ट के दोषी अब्दुल गनी तुर्क की नागपुर के जीएमसी हॉस्पिटल में मौत हो गई है. तुर्क नागपुर सेंट्रल जेल में कैद था और वह पिछले काफी समय से बीमार था. जानकारी के मुताबिक उसका नागपुर के अस्पताल में उपचार हो रहा था. जानकारों की मानें तो 1993 में हुए सीरियल ब्लास्ट में अब्दुल गनी ने सेंचुरी बाजार में बम रखा था. इस धमाके में 113 लोगों की मौत हुई थी.

मालूम हो कि तुर्क को विशेष टाडा अदालत ने दोषी पाते हुए मौत की सजा सुनाई थी. लेकिन जब मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा तब सजा को उम्र कैद में तब्दील कर दिया गया था. साल 1993 में मुंबई मे हुए सीरियल बम धमाकों के मुख्य साजिशकर्ता दाऊद इब्राहिम, याकूब मेमन और उसका भाई टाइगर मेमन था.

Related Posts