2019 World Cup: मैच से पहले कैप्टन कोहली ने क्यों किया 2017 चैंपियंस ट्रॉफी का जिक्र!

कोहली ने कहा, "पहले सप्ताह में धीरे-धीरे सुधार हुआ है. कुछ हल्के मैच हुए कुछ एकतरफा मैच हुए. लेकिन इनसे पता चला है कि जो टीम मानसिक संतुलन बनाए रखती है उस टीम को फायदा होता है.
विराट कोहली, 2019 World Cup: मैच से पहले कैप्टन कोहली ने क्यों किया 2017 चैंपियंस ट्रॉफी का जिक्र!

लंदन: भारत बनाम साउथ अफ्रीका का मुकाबला चंद घंटों बाद शुरु हो जाएगा. उससे पहले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनकी टीम ने चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 की गलतियों से सीखा है और आगे बढ़ी है.

भारत को चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. कोहली ने मंगलवार को कहा कि चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद टीम में कलाई के स्पिनरों को लाना टीम के लिए बड़ा और अहम कदम साबित हुआ है.

विराट कोहली ने कहा, “लोगों को मुझसे काफी उम्मीदें रहती है, इसको लेकर ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं. मैंने सीख लिया है, उम्मीदों के साथ कैसे खेलना है. लोग कहेंगे शतक चाहिए. यह मेरे लिए सिर्फ एक प्रक्रिया है. मेरे लिए सबसे ज्यादा टीम की जीत मायने रखती है. जो जरूरत हो 100, 150 या फिर उससे ज्यादा मैं वो करने के लिए तैयार हूं.”

मैच के जल्दी शुरू किए जाने के सवाल पर कोहली ने कहा, “सुबह 10.30 में शुरुआत करना बल्लेबाजों के लिए मुश्किल होगा. सुबह में संभलकर बल्लेबाजी करनी होगी. गेंदबाजों के लिए भी यह मुश्किल रहेगा, स्थिति के मुताबिक ढलना होगा”.

मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कोहली ने कहा, “चैम्पियंस ट्रॉफी से जो सीखा है वो यह है कि हम वो क्रिकेट खेलें जो जानते हैं. फाइनल में बेहतर टीम जीती थी. हमने गैप कम किए हैं. हम कलाई के स्पिनर लेकर आए हैं जो मध्य के ओवरों में विकेट लेते हैं. चैम्पियंस ट्रॉफी की तुलना में हम बेहतर टीम बने हैं.”

कोहली ने कहा, “पहले सप्ताह में धीरे-धीरे सुधार हुआ है. कुछ हल्के मैच हुए कुछ एकतरफा मैच हुए. लेकिन इनसे पता चला है कि जो टीम मानसिक संतुलन बनाए रखती है उस टीम को फायदा होता है.” कोहली ने कहा, “हम कल के मैच में बेहतर खेलने के लिए अपने अनुभव का उपयोग करना होगा. जो टीम दबाव झेल सकती है वो टूर्नामेंट जीत सकती है.”

Related Posts