दिल्‍ली: कपड़े बदल रही लड़की को CCTV में देख रहा था दुकानदार, यूं पकड़ा गया

27 वर्षीय महिला पत्रकार ने इसकी शिकायत पुलिस में की, जिसके बाद पुलिस ने 3 सिंतबर को दुकान मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:46 am, Fri, 6 September 19

ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जिनमें चेंजिग रूम में कपड़े बदलते हुए महिलाओं का गुप्त तरीके से वीडियो बनाया गया है. ताजा मामला दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में देखने को मिला, जहां पर एक महिला पत्रकार ने एक दुकान के खिलाफ चेंजिंग रूम में कपड़े बदलने के दौरान उसका वीडियो बनाए जाने की शिकायत दर्ज कराई है.

मिली जानकारी के अनुसार, 31 अगस्त को ये महिला ग्रेटर कैलाश इलाके के M ब्लॉक मार्किट में स्थित एक शॉप पर गयी थी. वहां पर वो जब चेंजिंग रूम में कपड़े बदल रही थी तब उसे लगा कि वहां एक हिडन सीसीटीवी कैमरे से उसे देखा जा रहा है.

27 वर्षीय महिला पत्रकार ने इसकी शिकायत पुलिस में की, जिसके बाद पुलिस ने 3 सिंतबर को दुकान मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की. पुलिस ने मामले की जांच की तो उन्होंने पाया कि दुकान के सीसीटीवी रिकॉर्ड में कई महिलाओं की फुटेज है. फिलहाल महिला की शिकायत और सीसीटीवी रिकॉर्ड के आधार पर आरोपी दुकानदर के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

10 मिनट बाद फीमेल स्टाफ ने बताई CCTV की बात

महिला ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा, “मैं जब दुकान में गई तो वहां कोई अन्य ग्राहक मौजूद नहीं था. दुकान मालिक समेत वहां 4 से 5 स्टाफ के सदस्य थे. दुकान मालिक के सामने सभी सीसीटीवी फुटेज की रिकॉर्डिंग चल रही थी. मैंने कुछ कपड़े लिए और मुझे ट्रायल रूम की तरफ भेज दिया गया. मैं जब हाफ कपड़ों में थी तो दस मिनट के बाद एक महिला स्टाफ मंबर आई और उसने मुझे दूसरे चेंजिंग रूम में जाने को कहा.”

“मैंने जब उससे इसका कारण पूछा तो उसने बताया कि यहां कैमरा लगा है. इतना ही नहीं उसने मुझसे आग्रह किया कि मैं हाफ कपड़ों में ही मैं दूसरे चेंजिग रूम में चली जाऊं. मैं यह सब देखकर हैरान थी. उसने मुझे हाफ कपड़ों में ही दूसरे चेंजिंग रूम में भेज दिया. इसके बाद मैंने अपने कपड़े पहने और चेंजिंग रूम से बाहर आ गई. बाहर आने के बाद मैं दुकान के मालिक के पास गई और उससे पूछा कि जिस कमरे में कैमरा लगा था मुझे उसमें जाकर चेंज करने को क्यों कहा गया. उसने मुझे कोई जवाब नहीं दिया. मैंने यही बात दुकान के स्टाफ से भी पूछी, लेकिन उन्होंने भी कोई जवाब नहीं दिया.”

इसके बाद महिला पत्रकार ने कहा, “मैं फिर दुकान से बाहर आ गई क्योंकि मुझे बहुत शर्म आ रही थी. 5-10 मिनट के बाद मैं फिर से दुकान में गई और वीडियो को डिलीट करने के लिए कहा. पहले तो दुकान मालिक मना करने लगा और कहने लगा कि उसे ऑपरेट करना नहीं आता. इसके बाद मैंने पुलिस को फोन करके बुलाया. इसके बाद वो दुकानदार जो मुझे कपड़े बदलते हुए लाइव देख रहा था, उससे फुटेज डिलीट कराई गई और यह सुनिश्चित किया गया कि उसने फुटेज को स्टोर करके नहीं रखा है.”

 

ये भी पढ़ें-   अलका लांबा ने छोड़ा AAP का साथ, थाम सकती हैं कांग्रेस का हाथ

एयरसेल-मैक्सिस मामले की सुनवाई कोर्ट ने अनिश्चितकाल के लिए टाली