15 अगस्त से पहले 350 पुलिसकर्मी क्वारंटीन, लाल किले पर PM मोदी को गार्ड ऑफ ऑनर देने वाले भी शामिल

15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र (PM Narendra Modi) लाल किले पर तिरंगा फहराएंगे. उन्हें इस खास मौके पर गार्ड ऑफ ऑनर (Guard of Honour) दिया जाएगा.

दिल्ली कैंनटॉनमेंट (Delhi Cantonment) में बनी नई पुलिस कॉलोनी खाली पड़ी है, क्योंकि अभी तक पुलिसवालों के परिवारों ने यहां पर शिफ्ट नहीं किया है. फिलहाल, 350 पुलिसकर्मी (350 Police Officer) यहां रह रहे हैं. इन्हें बाहरी दुनिया से किसी भी तरह का फिजिकल कॉन्टैक्ट रखने से मना किया गया है. रोजाना इनका बॉडी टेंपरेचर देखा जाता है और साथ ही कोरोनावायरस बीमारी के अन्य लक्षणों (Symptoms of Coronavirus) की भी जांच की जाती है.

कांस्टेबल से लकर डिप्टी पुलिस कमिश्नर रैंक तक

मान लीजिए कि ये सभी पुलिसकर्मी क्वारंटीन (Quarantine) हैं. इनमें कांस्टेबल से लकर डिप्टी पुलिस कमिश्नर रैंक तक के पुलिसकर्मी शामिल हैं. इनमें से कई पुलिसकर्मी वो हैं, जो कि गार्ड ऑफ ऑनर (Guard of Honour) का हिस्सा हैं.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

पीएम मोदी को देंगे गार्ड ऑफ ऑनर

15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र लाल किले पर तिरंगा फहराएंगे. उन्हें इस खास मौके पर गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा. इस बार लाल किले पर हर साल की तरह ही कार्यक्रम होगा, लेकिन भीड़ नहीं होगी. केवल कुछ गणमान्य व्यक्ति ही इस कार्यक्रम का हिस्सा होंगे.

एचटी की रिपोर्ट के अनुसार, एक सीनियर पुलिस ऑफिसर ने बताया कि हम उस दिन हर व्यक्ति की सुरक्षा के लिए इसे (क्वारंटीन) अपना रहे हैं. हम सभी आवश्यक सावधानी बरत रहे हैं. क्वारंटीन में आठ दिन से ज्यादा हो गए हैं. कॉम्प्लेक्स के अंदर, हमारे अधिकारी सभी आवश्यक सोशल डिस्टेंसिंग नॉर्म्स का पालन कर रहे हैं. किसी में कोई लक्षण नहीं देखा गया है.

रिपोर्ट्स के अनुसार, स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस रॉबिन हिबू, जो व्यवस्थाओं की देखरेख कर रहे हैं, उन्होंने पुष्टि की कि अधिकारी क्वारंटीन में हैं, लेकिन सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए उन्होंने डिटेल्स शेयर नहीं की. कार्यक्रम के हाई-प्रोफाइल होने के चलते प्रशासन कोई कमी नहीं रखना चाहता है.

एक पुलिसकर्मी ने कहा कि 350 में वे सभी शामिल हैं जो गार्ड ऑफ ऑनर का हिस्सा हैं. हमारे पास हर व्यक्ति के लिए बैक अप है. उदाहरण के लिए, हमें डीसीपी रैंक के केवल दो परेड कमांडरों की आवश्यकता है, लेकिन ऐसे चार अधिकारी क्वारंटीन में हैं. हम कोई चांस नहीं लेना चाहते हैं और रिजर्व अफसरों को भी क्वारंटीन में रख रहे हैं. अगर कोई अस्वस्थ (गैर-कोविद मुद्दे के कारण भी) पाया जाता है, तो हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि रिसर्व लोगों में भी कोई लक्षण न हों.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts