दिल्ली में Coronavirus के 72 हजार मरीज रिकवर, CM केजरीवाल ने की प्लाज्मा डोनेशन की अपील

इसके बाद सीएम (CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि इस समय दिल्ली में ना टेस्टिंग की कोई समस्या है और ना ही बेड की. ऐप पर आप देख सकते हैं कि कहां कितने बेड खाली हैं. घरों में 25,000 मरीजों में से 15,000 मरीजों का इलाज चल रहा है.

दिल्ली में लगातार कोरोनावायरस (Coronavirus in Delhi) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेस कर कहा कि कोरोना मामलों की संख्या करीब एक लाख पहुंच गई है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है. क्योंकि ठीक होने वाले लोगों की संख्या करीब 72000 हो गई है.

पिछले हफ्ते की स्थिति में और अधिक सुधार

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले हफ्ते जो कोरोना की स्थिति थी उसमें अब और अधिक सुधार आया है. जैसे जून के महीने में हम टेस्ट किया करते थे, तो हर 100 में से 35 कोरोना मरीज़ निकलते थे. अब 100 में से 11 ही कोरोना मरीज़ निकलते हैं. रोजाना 20,000 से 24000 टेस्ट हो रहे हैं. सभी अस्पतालों में मिलाकर करीब 5100 मरीज हैं यानी करीब 10,000 बेड खाली हैं. जून में 1 दिन दिल्ली में करीब 125 मौत हुई थीं, लेकिन अब करीब 60 मौत हो रही हैं.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

इसके बाद सीएम ने कहा कि इस समय दिल्ली में ना टेस्टिंग की कोई समस्या है और ना ही बेड की. ऐप पर आप देख सकते हैं कि कहां कितने बेड खाली हैं. घरों में 25,000 मरीजों में से 15,000 मरीजों का इलाज चल रहा है.

लोगों से की प्लाज्मा डोनेट की अपील

प्लाज्मा डोनेशन की अपील करते हुए अरविंद केजरीवाल बोले कि अगर प्लाज्मा डोनेट करने वालों की संख्या नहीं बढ़ी तो स्टॉक में जो प्लाज्मा रखा है वह सब खत्म हो जाएगा. हाथ जोड़कर गुजारिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोग आगे आकर प्लाज्मा डोनेट करें. घबराने की कोई जरूरत नहीं है, ना ही आपको कमजोरी आएगी, ना ही कोई दर्द होगा.

उन्होंने कहा कि पिछले हफ्ते देश में पहला प्लाज्मा बैंक शुरू हुआ. प्लाज़्मा से मॉडरेट लोगों की स्थिति सुधरती है. प्लाज्मा के लिए जो अफरा-तफरी मची थी, पिछले दिनों वह अब कम हो गई है. गुरुवार को प्लाज्मा बैंक शुरू हुआ था, लेकिन प्लाज्मा की डिमांड ज्यादा है और सप्लाई बहुत कम है. कुछ लोगों ने कहा कि अपने साथ किसी को लेकर जाएंगे तो संक्रमण हो जाएगा.

इसके बाद केजरीवाल ने कहा कि ILBS एक नॉन कोरोना अस्पताल है. मेरी एक टीम ठीक होने वाले सभी मरीजों को कॉल कर रही है और प्लाज्मा डोनेट करने के लिए अपील कर रही है. अगर आपको कॉल आए तो जरूर डोनेट कीजिएगा, मना मत कीजिएगा. जितने भी अस्पताल कोरोना का इलाज कर रहे हैं वह मरीज के ठीक होने पर उसकी काउंसलिंग करें और उसे बताएं कि वह ठीक होकर प्लाज्मा डोनेट कर सकता है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts