पहलू खान फैसले पर ट्वीट कर फंसी प्रियंका गांधी, बिहार में दर्ज हुआ आपराधिक केस

वकील सुधीर ओझा ने प्रियंका गांधी के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने और लोअर कोर्ट के फैसले का अवमानना करने का आरोप लगाया है.

नई दिल्ली: कांग्रेस कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के खिलाफ बिहार के मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में आपराधिक मामला दर्ज किया गया है. वकील सुधीर ओझा की ओर से कोर्ट में यह केस दर्ज कराया गया है. ओझा ने प्रियंका गांधी के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने और लोअर कोर्ट के फैसले का अवमानना करने का आरोप लगाया है.

सुधीर ओझा ने सीजेएम सूर्यकांत तिवारी के कोर्ट में इस मामले में परिवाद पत्र दर्ज कराया है. सीजेएम तिवारी के कोर्ट ने सुधीर ओझा के परिवाद पत्र को स्वीकार कर लिया है. इस मामले की अगली सुनवाई अब 26 अगस्त को होगी. सुधीर ओझा ने प्रियंका गांधी के खिलाफ धारा 504, 506 और 153 के तहत केस दर्ज कराया है.


‘लोअर कोर्ट का फैसला चौंकाने वाला’
दरअसल, प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को कहा कि पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में लोअर कोर्ट का फैसला चौंका देने वाला है. उन्होंने साथ ही कहा कि हमारे देश में अमानवीयता की कोई जगह नहीं होनी चाहिए और राजस्थान सरकार का मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने का फैसला स्वागत योग्य है.

उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, “पहलू खान मामले में लोअर कोर्ट का फैसला चौंका देने वाला है. हमारे देश में अमानवीयता की कोई जगह नहीं होनी चाहिए और भीड़ द्वारा हत्या एक जघन्य अपराध है.”


‘कानून बनाने की पहल सराहनीय’
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “राजस्थान सरकार द्वारा भीड़ द्वारा हत्या के खिलाफ कानून बनाने की पहल सराहनीय है. आशा है कि पहलू खान मामले में न्याय दिलाकर इसका अच्छा उदाहरण पेश किया जाएगा.”


मालूम हो कि अलवर में लोअर कोर्ट द्वारा पहलू खान मामले में सभी छह आरोपियों को बरी किए जाने के दो दिन बाद प्रियंका ने यह कहा है. कोर्ट ने इन छह आरोपियों को संदेह के आधार पर बरी कर दिया था.

ये भी पढ़ें-

महबूबा मुफ्ती की बेटी ने गृहमंत्री अमित शाह को लिखा खत, ‘कश्मीरियों को पशुओं की तरह किया कैद’

छापे में घर से मिली AK-47, अनंत सिंह बोले- जदयू सांसद ललन सिंह के इशारे पर हो रही कार्रवाई

मस्जिद का निर्माण धार्मिक नहीं बल्कि दूसरे धर्म को कुचलने के इरादे से किया गया: रामलला विराजमान