सरकारी अस्पताल से डिस्चार्ज होने के चंद घंटों बाद 12 लोग निकले कोरोना पॉजिटिव, फिर से हुए भर्ती

एक रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद स्वास्थ्य अधिकारी ने उसी दिन उनके फिर से सैंपल लिए, लेकिन नतीजे आने के पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया. इसके बाद शाम को जब रिपोर्ट आई तो 15 में से 12 को कोरोना पॉजिटिव पाया गया.
corona virus crisis, सरकारी अस्पताल से डिस्चार्ज होने के चंद घंटों बाद 12 लोग निकले कोरोना पॉजिटिव, फिर से हुए भर्ती

कोविड -19 टेस्ट नेगेटिव निकलने के तीन दिन बाद, एक सॉफ्ट ड्रिंक प्लांट के 12 मजदूरों को जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में एक सरकारी अस्पताल में वापस ले जाया गया, उसके बाद जब एक बार फिर उनके सैंपल लिए गए तो वो कोविड-19 पॉजिटिव निकले. डिस्चार्ज होने के बाद इनमें से कई मजदूर जम्मू क्षेत्र में अलग-अलग जगहों पर अपने घर गए थे. वो सभी अब ESIC अस्पताल में भर्ती हैं.

इंडियन एक्सप्रेस ने सूत्रों के हवाले से बताया कि 1 जुलाई को सॉफ्ट ड्रिंक फैक्ट्री में काम करने वाले एक मजदूर को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद वहां काम करने वाले करीब 15 मजदूरों को क्वारंटीन किया गया. अगले दिन इन लोगों के सैंपल भी पॉजिटिव आए. इसके बाद 5 जुलाई को इन्हें ESIC हॉस्पिटल में भर्ती किया गया.

9 दिनों बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने उनके फिर से सैंपल लिए और 17 जुलाई को आए नतीजों में ये सभी कोरोना नेगेटिव निकले. उसी दिन स्वास्थ्य अधिकारी ने एक बार फिर सेकेंड टेस्ट के लिए इन लोगों के सैंपल लिए, लेकिन नतीजे आने के पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया. 17 जून की शाम जब नतीजे आए तो 15 में से 12 मजदूर पॉजिटिव निकले.

डॉक्टरों ने कहा गाइडलाइंस के मुताबिक दी छुट्टी

इसके बाद डॉक्टरों में हड़कंप मच गया और मजदूरों की तलाश शुरू की गई. लेकिन तब तक कई लोग सांबा जिले से बाहर अपने घरों की तरफ निकल चुके थे. अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि उन्होंने मरीजों को नेगेटिव रिपोर्ट और सरकार की गाइडलाइंस के आधार पर छुट्टी दी थी. उनका कहना है कि गाइडलाइंस के मुताबिक जिन लोगों में 3 दिन तक कोई लक्षण न दिखे या पहली बार लक्षण दिखने के 10 दिन बाद अगर कोई लक्षण न दिखे तो मरीज को डिस्चार्ज किया जा सकता है.

डॉक्टरों का कहना हैृ कि सभी मजदूरों को अब अस्पताल में वापस लाया जा चुका है. एक डॉक्टर ने कहा कि उनके सैंपल्स सोमवार को फिर से लिए गए और उनके नतीजे पॉजिटिव आए हैं. कुछ मजदूरों के परिजनों ने आरोप लगाया है कि डॉक्टरों ने उन्हें अस्पताल में यह कहते हुए बुलाया कि उन्हें एक्स-रे करवाने की जरूरत है और उन्होंने पॉजिटिव रिपोर्ट का खुलासा नहीं किया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts