कांग्रेस की रैली में पत्रकार की पिटाई वाला वीडियो वायरल, क्या राहुल गांधी करेंगे कार्रवाई?

वीडियो में एक शख़्स जो कांग्रेसी कार्यकर्ता बताया जा रहा है उसने पत्रकार को पकड़ रखा है. इतने में एक दूसरा व्यक्ति आता है और उसे मारने लगता है.
Photo journalist beaten by congress worker, कांग्रेस की रैली में पत्रकार की पिटाई वाला वीडियो वायरल, क्या राहुल गांधी करेंगे कार्रवाई?

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक तरफ घयल पत्रकारों की मरहम पट्टी कर सुर्खियां बटोर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ उनके कार्यकर्ता पत्रकारों की पिटाई कर रहे हैं. तमिलनाडु के विरुद्धनगर का एक वीडियो सामने आया है जिसमें कथित कांग्रेस कार्यकर्ता पत्रकार की पिटाई कर रहे हैं.

वीडियो में एक शख़्स जो कांग्रेसी कार्यकर्ता बताया जा रहा है उसने पत्रकार को पकड़ रखा है. इतने में एक दूसरा व्यक्ति आता है और उसे मारने लगता है. हालांकि बाद में वहां मौजूद अन्य पत्रकार उसकी मदद के लिए आगे बढ़ते हैं और किसी तरह उसे वहां से निकालते हैं.

वीडियो कांग्रेस रैली का बताया जा रहा है. एएनआई के मुताबिक वह पत्रकार ख़ाली कुर्सियों की फोटो निकाल रहा था. जिसके बाद पहले तो एक कार्यकर्ता ने उस फोटो फत्रकार को पकड़कर फोटो लेने से रोका बाद में वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने उसकी पिटाई कर दी.

बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सड़क हादसे में घायल हुए एक पत्रकार को अपनी गाड़ी में बैठाकर एम्स पहुंचाया था. इस प्रकरण के बाद मीडिया में राहुल गांधी की काफी तारीफ हुई. यहां तक कि पत्रकार ने भी उनकी काफी तारीफ़ की थी.

इस घटना के बाद केरल के वायनाड में जब राहुल जब नामांकन भरने पहुंचे थे तो तो वहां भी बैरीकेड्स टूटने की वजह से TV9 भारतवर्ष की रिपोर्टर सुप्रिया भारद्वाज समेत कई पत्रकारों को चोट लगी थी. यहां भी राहुल ने इनकी मदद कर काफी सुर्खियां बटोरी.

ऐसे में सवाल यह उठता है कि अगर राहुल की विचारधारा लोगों की मदद करने की है तो फिर उनके कार्यकर्ता इस तरह की हिंसा को कैसे अंजाम दे सकते हैं.

यह सवाल इसलिए भी अहम है क्योंकि पीएम मोदी अक्सर भीड़ की हिंसा को लेकर विरोधियों के निशाने पर रहे हैं. हालांकि उन्होंने सार्वजनिक रुप से कई बार इस तरह की घटना का विरोध तो किया लेकिन अब तक किसी घटना में सख़्त कार्रवाई नहीं दिखी है.

वहीं कई मामलों में बीजेपी के मंत्री और नेता हिंसा करने वाले लोगों का मनोबल बढ़ाते हुए देखे गए. ऐसे में पीएम मोदी की मंशा को लेकर काफी सवाल उठाए गए हैं.

अब सवाल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मंशा को लेकर उठ रहे हैं कि क्या इन कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ कोई एक्शन लिया जाएगा या फिर खेद जताकर मामाला रफा दफा कर दिया जाएगा.

Related Posts