कहीं देखी है ऐसी ईमानदारी, लौटा दिए लावारिस 10 लाख रुपये

सूरत के एक शो रूम में सेल्समैन के तौर पर काम करने वाले दिलीप को रास्ते में रुपयों से भरी एक थैली मिली थी. इसमें 10 लाख रुपये थे. दिलीप इन रुपयों को उसके मालिक तक पहुंचाने में लग गए.

सूरत: ईमानदार लोगों की आज भी देश में कमी नहीं है. एक ऐसी ही ईमानदारी की मिसाल गुजरात के सूरत में देखने को मिली है. शहर के उमरा इलाके में तीन दिन पहले दिलीप पोद्दार नामक एक शख़्स को सड़क पर थैली मिली थी जिसके अंदर दो हज़ार के गुलाबी नोट भरे थे. सड़क पर लावारिस मिली थैली में दो हज़ार के बंडल में कुल 10 लाख रुपए भरे थे.

शो रूम में सेल्समैन के तौर पर काम करने वाले दिलीप इतने रुपए देखकर हैरान रह गए. उन्हें समझ में नहीं आ रहा था कि वो क्या करें. उन्होंने इस रकम के बारे में अपने शो रूम के मैनेजर को बताया. लेकिन रक़म का मालिक कौन है, इसका पता नहीं चला.

पुलिस को किसी से इन रुपयों की ख़बर मिली. पुलिस छानबीन करते हुए दिलीप के घर पहुंची. दिलीप ने पुलिस को सब कुछ बता दिया. लेकिन पुलिस इन रुपयों के असली मालिक का पता नहीं लगा पा रही थी.

पुलिस ने सड़क पर सीसीटीवी की छानबीन की. इससे पुलिस रुपयों के असली मालिक तक पहुंच गई. और ये रुपये उसे दे दिये. वहीं, इनके मालिक ने दिलीप की ईमानदारी से प्रभावित होकर उसे 2 लाख रुपये दिए.