पंजाब के गुरदासपुर से जासूसी के आरोप में संदिग्ध गिरफ्तार, पाकिस्तानी नंबरों पर बातचीत के मिले रिकॉर्ड

संदिग्ध विपन सिंह पिछले डेढ़ साल से कैंट एरिया में बनी हैंडलूम की दुकान में काम रहा था. सेना की पिछले कई दिनों से इस पर नजर बनी हुई थी.

पंजाब के गुरदासपुर से एक संदिग्ध युवक को पकड़ा गया है. सेना ने जासूसी के आरोप में इस शख्स को गिरफ्तार किया है. युवक के पास से आर्मी कैंट का वीडियो मिला है. साथ ही पाकिस्तानी नबंरों पर बातचीत के रिकॉर्ड भी मिले हैं. पकड़े गए आरोपी का नाम विपन सिंह है.

संदिग्ध विपन सिंह गुरदासपुर का ही रहने वाला है. विपन पिछले डेढ़ साल से कैंट एरिया में बनी हैंडलूम की दुकान में काम रहा था. सेना की पिछले कई दिनों से इस पर नजर बनी हुई थी. विपन की गतिविधियां शक के दायरे में थीं.

सेना की कई दिनों से थी नजर
विपन के मोबाइल से करतारपुर कॉरिडोर का वीडियो मिला है. साथ ही कई संदिग्ध नंबरों पर बातचीत के रिकॉर्ड भी मिले हैं. इसके अलावा यह बात भी निकलकर सामने आई है कि सेना की खुफिया जानकारियां पहुंचाने के लिए इसे पाकिस्तान की ओर से 10 लाख रुपये दिए गए थे.

सेना ने विपन सिंह से पूछताछ में कई अहम जानकारियां हासिल की हैं. विपन से अभी भी पूछताछ की जा रही है. ऐसा माना जा रहा है कि किसी बड़ी गतिविधि की जानकारी निकलकर सामने आ सकती है. ये गिरफ्तारी सेना के लिए काफी अहम मानी जा रही है.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली-NCR में आज ट्रांस्पोर्टर्स की हड़ताल, बाहर निकलते समय इन आठ बातों का रखें ध्यान

VIDEO: दरभंगा स्टेशन पर हिंदी, अंग्रेजी के साथ मैथिली भाषा में शुरू हुई अनाउंसमेंट

हिंदी को क्षेत्रीय भाषाओं पर थोपने की बात कभी नहीं कही: अमित शाह