विंग कमांडर अभिनंदन के स्क्वाड्रन को ‘फाल्कन स्लेयर्स’ नाम से भी मिलेगी पहचान, ये नया बैज मिलेगा

विंग कमांडर अभिनंदन की बहादुरी हमेशा याद की जाएगी. उनकी स्क्वाड्रन अब ऐसा बिल्ला अपनी वरदी पर लगाएगी जो पाकिस्तानी एफ-16 को धूल में मिला देनेवाले पराक्रम को भूलने नहीं देगी. आप भी देखिए.

विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 (फाल्कन) को तीन महीने पहले धराशायी किया था मगर भारतीय वायु सेना इस पराक्रम भरी घटना को हमेशा याद रखना चाहती है. इसी सिलसिले में तय हुआ है कि अब 51वीं स्क्वाड्रन को ‘फाल्कन स्लेयर्स’ यानि फाल्कन का वध करनेवाली के नाम से भी जाना जाएगा. अभी तक मिग-21 बायसन फाइटर जेट वाली इस‌ स्क्वाड्रन को ‘स्वार्ड आर्म’ के नाम से जाना जाता रहा है.

27 फरवरी को 51वी स्क्वाड्रन मे तैनात अभिनंदन ने भारतीय सीमा में घुसकर वापस लौट रहे पाकिस्तानी एफ-16 का पीछा करते हुए मार गिराया था. इस प्रयास में उनका विमान भी क्रैश हो गया था लेकिन वो पैराशूट के सहारे जमीन पर सुरक्षित उतरे थे. बाद में उन्हें पीओके के कुछ लोगों ने पाकिस्तानी आर्मी के हवाले कर दिया था. दुनिया के सामने जब उनके वीडियो आए तो सभी ने उस साहस की तारीफ की जो गिरफ्त में खड़े अभिनंदन ने दिखाया. दुनिया भर में चौतरफा दबाव बना जिसके बाद पाकिस्तान को 48 घंटे के भीतर अभिनंदन को रिहा करना पड़ा.

जानकारी के मुताबिक 51वीं स्कॉवड्रन में तैनात सभी बायसन जेट उड़ानेवाले पायलट्स उड़ान के वक्त‌ अपने जी-सूट यानि यूनिफार्म पर खास ‘फाल्कन सेल्यर्स’ का बैज लगाएंगे. बैज पर ‘एमराम डोजर्स’ भी लिखा है. गौरतलब है कि पाकिस्तानी एफ-16 विमान एमराम मिसाइलों से ही लैस होते हैं.

27 फरवरी को भारतीय सीमा का उल्लंघन करनेवाले पाकिस्तानी विमानों ने एमराम मिसाइलों का ही प्रयोग किया था, लेकिन भारतीय मिग बायसन और सुखोई ने उन्हें चकमा दे दिया था जिसे अंग्रेज़ी में ‘डोज’ कहते हैं.  यही वजह है कि 51वीं स्कॉवड्रन का जो नया बैज आया है‌ उसपर ‘एमराज डोजर्स’ भी लिखा है.

(Visited 385 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *