8 चरणों में होंगे जम्मू कश्मीर में पंचायत उपचुनाव

जम्मू कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी शेलेंद्र कुमार ने बताया कि चुनाव आठ चरण में होंगे साथ ही गुरुवार से ही जम्मू कश्मीर में चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गई है.
Abrogation Of Jammu kashmir, 8 चरणों में होंगे जम्मू कश्मीर में पंचायत उपचुनाव

जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म होने के बाद तकरीबन सात महीने बाद घाटी में पहली बड़ी राजनैतिक गतिविधि होने जा रही है. यहां मार्च में करीब 13 हजार रिक्त पंचायत सीटों के लिए यह उपचुनाव कराए जाएंगे. जम्मू-कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी ने यह ऐलान किया है.

जम्मू कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी शेलेंद्र कुमार ने बताया कि चुनाव आठ चरण में होंगे साथ ही गुरुवार से ही जम्मू कश्मीर में चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गई है.

मुख्य चुनाव अधिकारी शैलेन्द्र कुमार ने गुरुवार को घोषणा करते हुए जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनावों की तारीखों का ऐलान किया. मार्च में 8 चरणों में पंचायत चुनाव होंगे.

पहले चरण के मतदान 5 मार्च, दूसरे चरण के 7 मार्च, तीसरे चरण के 9 मार्च, चौथे चरण के 12 मार्च, पांचवे चरण के 14 मार्च, छठवे चरण के 16 मार्च, सातवें चरण के18 मार्च और आठवें चरण के चुनाव 20 मार्च को होंगे. पहली अधिसूचना 15 फरवरी को जारी की जाएगी.

उपचुनाव में राज्य के तीन पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती हिस्सा नहीं ले पाएंगे. जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही इन नेताओं समेत घाटी के तकरीबन 100 नेताओं को हिरासत में रखा गया था.

जिस दिन नजरबंदी की मियाद पूरी हुई उसी दिन पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत तीन महीनों के लिए हिरासत में फिर भेज दिया गया. ये आदेश पिछले हफ्ते ही आया है. जो कि अप्रैल तक लागू रहेगा और पंचायत उपचुनाव मार्च में ही खत्म हो जाएंगे.

साल 2018 में हुए पंचायत चुनाव में दो प्रमुख पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस और PDP ने चुनाव का बहिष्कार किया था जिसके बाद लगभग 12 हजार सीटें खाली रह गई थी. इधर कश्मीर के हालत का जायजा लेने के लिए आए विदेशी राजनयिकों के प्रतिनिधिमंडल को सेना के अधिकारियों ने गुरूवार को सुरक्षा हालात के बारे में जानकारी दी.

 

Related Posts